TUV300: महिन्द्रा के टर्न अराउंड की शुरूआत?

0
591

-अगस्त में महिन्द्रा ने 14198 पैसेंजर व्हीकल बेचे थे।
-TUV300 लॉन्च के साथ सितम्बर में डिस्पैच 50% उछाल के साथ 19564 यूनिट्स के रहे।
-अक्टूबर में बीस हजार के मनोवैज्ञानिक स्तर को भी पार कर गई और 24038 गाडिय़ां बेचीं।
-होन्डा को पीछे छोड़ अक्टूबर में तीसरे पायदान पर पहुंचीं महिन्द्रा

mahindra tuv 300कार स्पेशलिस्ट ह्यूंदे और मारुति के एसयूवी सैगमेंट में उतरने से कड़े हुये मुकाबले के बावजूद TUV300 के जरिये यूवी सैगमेंट में देश की सबसे बड़ी कम्पनी महिन्द्रा एंड महिन्द्रा बहुत तेजी से टर्नअराउंड की ओर बढ़ती नजर आ रही है।
नये प्लेयर्स: पिछले चार महिनों में यूवी सैगमेंट में Hyundai Creta और Maruti Scross बाजार में आई हैं। क्रेटा को 50 हजार से ज्यादा बुकिंग मिली हैं जिनमें से 30 हजार यूनिट्स की डिलिवरी भी हो चुकी है। वहीं मारुति ने करीब 13 हजार एस-क्रॉस डिस्पैच की हैं।
इंडस्ट्री रिपोर्ट: अप्रेल-अक्टूबर के बीच यूवी सैगमेंट में कुल 324447 यूनिट्स की बिक्री हुई जो पिछले वर्ष इन्हीं सात महिनों में हुई 321428 यूनिट्स की सेल्स के मुकाबले सिर्फ 0.94 फीसदी अधिक है।
TUV300 और महिन्द्रा का यूवी किला: सितम्बर में आई TUV300 के शुरूआती दो महिने में 8864 यूनिट्स के डिस्पैच हुये हैं। इनके अलावा Mahindra Scorpio सैगमेंट में लगातार बढ़ रहे कम्पीटिशन के बावजूद 4 हजार यूनिट्स के औसत पर टिकी हुई है और Mahindra XUV500 लगातार 3 हजार के औसत वॉल्यूम पर जमी है। स्कॉर्पियो और एक्सयूवी500 से मिल रहे स्थिर वॉल्यूम के चलते कम्पनी TUV300 का फायदा उठाकर अपने औसत डिस्पैच को बढ़ाने में कामयाब रही है। रूरल इकोनॉमी के भारी दबाव में आने से Mahindra Bolero को नुकसान उठाना पड़ रहा है और अगस्त में कम्पनी के डिस्पैच घटकर 14198 यूनिट्स ही रह गये थे। लेकिन सितम्बर में यह 40 फीसदी उछाल के साथ 19564 यूनिट्स के लेवल पर पहुंच गये। अक्टूबर में फेस्टिव डिमांड के चलते महिन्द्रा एंड महिन्द्रा ने आठ महिने बाद बीस हजार के स्तर का पार कर 24038 गाडिय़ां बेचीं।
TUV300 Vsयदि नई पीढ़ी के यूवी मॉडलों की बात करें तो TUV300 लॉन्च के दो महिनों में ही Renault Duster, Nissan Terrano और Ford Ecosport को पीछे छोडऩे में कामयाब रही है। अब इन मॉडलों में TUV300 बेस्ट सेलर है और 3300 यूनिट्स के औसत डिस्पैच के साथ फोर्ड ईकोस्पोर्ट दूसरे पायदान पर है।
TUV300 और एएमटी: महिन्द्रा की चार मीटर से कम लम्बाई वाली TUV300 देश का पहला एसयूवी मॉडल है जिसमें वैल्यू फोर मनी एएमटी यानि ऑटो मैन्यूअल टेक्नोलॉजी गियरबॉक्स का ऑप्शन दिया गया है। कम्पनी का दावा है कि एएमटी वैरियेंट्स को कस्टमर रेस्पॉन्स उम्मीद से ज्यादा मिला है। महिन्द्रा एंड महिन्द्रा के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर पवन गोयनका के अनुसार TUV300 के लिये मिली कुल 12 हजार यूनिट्स की बुकिंग में से करीब आधी एएमटी वैरियेंट्स के लिये हैं। एएमटी ऑप्शन के लिये इतनी डिमांड की कम्पनी को उम्मीद नहीं थी इसलिये इनकी डिमांड के हिसाब से सप्लाई नहीं हो पा रही है। TUV300 में टी6+ और टी8+ वैरियेंट्स में एएमटी ऑप्शन है और इनकी कीमत करीब 8.5 और 9.10 लाख रुपये है।
Hyundai Creta बेस्ट सेलर: यदि ओवरऑल यूवी/एसयूवी सैगमेंट को देखें तो Hyundai Creta ने Mahindra Bolero को पीछे छोड़ पहले पायदान पर कब्जा जमा लिया है और जिस तरह बोलेरो कमजोर पड़ रही है उससे जल्दी क्रेटा के बेदखल होने की उम्मीद कम है। हाल के महिनों में बोलेरो के औसत डिस्पैच 9 हजार से घटकर 6300 यूनिट्स पर आ गये हैं।
तीसरे, चौथे, पांचवे और छठे पायदान पर TUV300, Scorpio, XUV500, Maruti Scross और Ford Ecosport के बीच मुकाबला है। इन पांच मॉडलों में दो हाल ही लॉन्च हुये हैं ऐसे में आने वाले महिनों में यह समीकरण साफ होगा।
महिन्द्रा @ नम्बर 3: पैसेंजर व्हीकल सैगमेंट में पहले और दूसरे पायदान पर मारुति और हुंडई मजबूती से जमे हुये हैं और इन्हें कोई खतरा भी नहीं है। लेकिन तीसरे और चौथे पायदान के लिये महिन्द्रा व होन्डा के बीच कड़ा मुकाबला चल रहा है। अगले दो-तीन महिने में महिन्द्रा का एंट्री लेवल मॉडल लॉन्च होना है और होन्डा की पहली कॉम्पेक्ट एसयूवी Honda BRV भी लॉन्च के करीब है। यदि रूरल इकोनॉमी में सुधार होता है और इसका फायदा बोलेरो को मिलता है तो इस मुकाबले में महिन्द्रा की जीत हो सकती है और तीसरे पायदान पर लम्बे समय के लिये टिकने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here