Tesla के Elon Musk ने फेक्टरी में सोकर यह कमाल किया है!

0
178

Elon Musk कहें तो Tesla लगता है किसी और ही मिट्टी की बनी है। 100-100 साल पुरानी लीगेसी (परम्परागत मुख्यधारा की) कार कम्पनियों के हमले, इन्वेस्टरों की धाकड़ खिलाफत लॉबी और अपने सबसे बड़े कैचमेंट एरिया (नदी का जलग्रहण क्षेत्र) अमेरिका में कोराना कुद्दड़ के बावजूद एक अदना सी कार कम्पनी Tesla 5 लाख यूनिट्स के सेल्स वॉल्यूम के साथ 2020 को अलविदा कर बहुत दमदार स्टेटमेंट देने में कामयाब रही है। Tesla delivers almost 5 lakh vehicles in 2020.

5 साल की कयासबाजी के बाद Tesla आखिर 2021 में भारत के बाजार में कदम रख रही है। Elon Musk और नितिन गड़करी दोनों ही इस खबर को पुख्ता कर चुके हैं। आपको याद होगा जुलाई 2016 में नितिन गड़करी ने Tesla के अमेरिका में पालो ऑल्टो प्लांट का दौरा किया था।

Tesla और Elon Musk दोनों हमेशा से ही अपने कद से बढ़कर काम करते रहे हैं। अमेरिकी शेयर बाजार वॉल स्ट्रीट के दिग्गजों का अंदाजा था कि Tesla 2020 की विदाई 481261 (4 लाख 81 हजार ) यूनिट्स के साथ करेगी लेकिन कम्पनी ने 499550 (4 लाख 99 हजार) गाड़ियां डिलिवर कर गहरी जेब वाले आसामियों को तगड़ झटका दे दिया।

Elon Musk खुद 5 लाख यूनिट्स का टार्गेट लेकर चल रहे थे। 2019 में टेस्ला ने 367500 गाड़ियों की डिलिवरी दी थी।

आपको शायद भरोसा न हो लेकिन कोरोना क्राइसिस से भी पहले 2020 की शुरूआत में Tesla ने 5 लाख यूनिट्स के साथ साल का अंत करने की बात कही थी। पर कोरोना के कारण लम्बे चले लॉकडाउन और ग्लोबल इकोनॉमी की चूल हिल जाने के बावजूद कम्पनी अपने लक्ष्य से सिर्फ 450 यूनिट्स दूर रही।

Elon Musk ने ट्वीट कर कहा… “At the start of Tesla, I thought we had (optimistically) a 10% chance of surviving at all,” …शुरूआत में टेस्ला, मुझे लगता इसके चल पाने की 10 परसेंट ही संभावना थी।

Tesla के लिए डिमांड से भी बड़ी चुनौती प्रॉडक्शन बढ़ाने की रही है। प्रॉडक्शन कॉस्ट को काबू में रखने के लिए कम्पनी जब 2018 में Tesla मॉडल3 के प्रॉडक्शन टार्गेट से पिछड़ रही थी तब मस्क खुद शॉपफ्लोर पर ही सो जाया करते थे।

अप्रेल 2018 में मस्क ने एक इंटरव्यू में कहा था कि उनके पास घर जाने के टाइम ही नहीं है।

Elon Musk ने साल 2008 में टेस्ला रोडस्टर लॉन्च कर ऑटो इंडस्ट्री में कदम रखे थे।

Tesla’s Meteoric Rise

YearUnits Sales
20122600
201322400
201432000
201550000
201676200
2017103100
2018245200
2019367500
2020499550

Tesla ने अप्रेल 2016 में अपने एंट्री लेवल सेडान मॉडल3 की बुकिंग खोली थीं और पहले ही दिन उसे 1.80 लाख ऑर्डर मिल गये थे। मॉडल3 के लिए टेस्ला को 5 लाख के ज्यादा ऑर्डर मिले थे।

पिछले एक साल में Tesla की शेयर प्राइस 743 परसेंट बढ़ चुकी है और 668.9 बि. डॉलर के कैपिटलाइजेशन के साथ दुनिया की सबसे ज्यादा वैल्यूएशन….टोयोटा से भी ज्यादा…वाली कम्पनी बन गई है। यहां तक कि इसका वैल्यूएशन 9 सबसे बड़ी ग्लोबल कार कम्पनियों के कुल वैल्यूएशन से भी ज्यादा है।

Tesla दुनिया की पहली कार कम्पनी है जिसने रीकॉल की गई गाड़ियों को वर्कशॉप बुलाये बिना ओवर द एयर सॉफ्टवेयर अपडेट कर बाजी मार ली थी।