Tata Motors पर कोर्ट ने क्यों लगाया 1 लाख रुपये का जुर्माना

0
528

tata indigo

कंज्यूमर कोर्ट ने Tata Motors और उसके एक डीलर की खिंचाई करते हुये यूज्ड गाड़ी को नई बताकर धोखे से बेचने के मामले में जुर्माना लगाया है।

जहां Tata Motors को अप्रत्यक्ष रूप से जिम्मेदार मानकर कस्टमर को एक लाख रुपये का जुर्माना देने का आदेश दिया गया है वहीं डीलर को गाड़ी की पूरी कीमत 4.80 लाख रुपये लौटाने को कहा गया है। साथ ही डीलर को कानूनी खर्च और तकलीफ की भरपाई के लिये कस्टमर को 60 हजार रुपये भी देने होंगे।

मामला दरअसल यह है कि भावनगर के प्रशांत व्यास ने Tata Motors के शहर में स्थित डीलर कार्गो मोटर्स से अक्टूबर 2006 में Tata Indigo कार खरीदी थी। खरीदने के दो महिने के अंदर ही गाड़ी में कई गड़बडिय़ां सामने आने लगी और स्टार्ट होना ही बंद हो गई। उन्होंने एक लोकल मैकेनिक को गाड़ी दिखाई तो उसने बताया कि गाड़ी नई नहीं बल्कि सैकंड हैंड है। मामले की पड़ताल करने पर व्यास को पता चला कि की गाड़ी उनसे पहले मई 2006 में दीपक शाह नाम के व्यक्ति को बेची गई थी।

प्रशांत व्यास ने लोकल कंज्यूमर कोर्ट में इसकी शिकायत की तो उसने अपने आदेश में Tata Motors और कार्गो मोटर्स को मिलकर गाड़ी की कीमत, मुआवजा और कानूनी खर्च कस्ट को लौटाने का आदेश दिया।

इस आदेश के खिलाफ Tata Motors ने गुजरात कंज्यूमर डिस्प्यूट्स रिड्रेसल कमिशन में अपील की। जिसे कमिशन ने ना केवल खारिज कर दिया बल्कि टाटा मोटर्स पर 5 हजार रुपये का जुर्माना भी लगा दिया।

Tata Motors ने इस आदेश को नेशनल कंज्यूमर डिस्प्यूट्स रिड्रेसल कमिशन (NCDRC) में चैलेंज किया तो कमिशन ने माना कि हो सकता है Tata Motors को डीलर द्वारा इस गाड़ी को बेचने के बारे में जानकारी नहीं हो लेकिन अजीब यह है कि एक ओर तो कम्पनी इंजन बदलती है लेकिन इसके बावजूद उसे यह पता नहीं कि यह इंजन किस गाड़ी का बदला जा रहा है।

Tata Motors ने डीलर से यह भी नहीं पूछा कि इस गाड़ी को दूसरी बार क्यों बेच दिया गया। ना ही कम्पनी ने डीलर के खिलाफ कोई एक्शन लिया ना ही उसकी डीलरशिप कैंसल नहीं की गई। इससे साफ है कि टाटा मोटर्स और डीलर में साठगांठ थी और दोनों इस मामले में शामिल थे।

कमिशन ने साफ कहा कि Tata Motors और डीलर कार्गो मोटर्स की यह हरकत बिलो द बेल्ट है यानि एथिक्स और कंज्यूमर के हित को जानबूझकर चोट पहुंचाने वाली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here