18 करोड़ की Ren है रेवोल्यूशनरी Future Car

0
510

Techrules Ren

चीन की स्टार्टअप Techrules ने Geneva Motor Show में Ren के नाम से डीजल-इलेक्ट्रिक हाइब्रिड सुपरकार को लॉन्च किया है। करीब 350 किलोमीटर की टॉपस्पीड वाली Ren को कम्पनी वेहीकल ऑफ द फ्यूचर कह रही है। Ren को इलेक्ट्रिक मोटर से पावर मिलती है और डीजल इंजन बैटरी को चार्ज करता है। कैनोपी जैसी छत वाली के चलते Ren में दरवाजों की जरूरत ही नहीं है। कम्पनी का मानना है कि इस डिजायन से मजबूती भी बढ़ती है और हैंडलिंग भी सुधरती है।

न्यू टेक और न्यू रूल्स को मिलाकर कम्पनी का नाम TechRules बना है और एअरोस्पेस व इलेक्ट्रिक वेहीकल टेक्नोलॉजी के पेटेंटशुदा इनोवेशन से तैयार Ren की प्राइस करीब 2.2 मिलियन पाउंड यानि करीब 18 करोड़ रुपये होगी।

हालांकि मोटर शो में इस तरह के कॉन्सेप्ट डिस्प्ले होना कोई नई बात नहीं है लेकिन टेकरूल्स ने कहा है कि वह इसका प्रॉडक्शन प्लान बना चुकी है। Ren के पहले बैच का प्रॉडक्शन इटली में किया जायेगा और 1 साल में इसकी डिलिवरी शुरू हो जायेगी।

1700 किलो की इस डीजल इलेक्ट्रिक हाइब्रिड सुपरकार की पावर 1287 बीएचपी है और सिर्फ 2.5 सैकंड में 100 की स्पीड तक पहुंच सकती है।

TREV यानि टर्बाइन रीचार्जिंग इलेक्ट्रिक वेहीकल में डीजल इंजन इलेक्ट्रिक मोटर को चलाता है जो बैटरी को चार्ज करता है। बैटरी की पावर से Ren के व्हील्स में लगी मोटर चलती हैं। आमतौर पर यह कार बैटरी की पावर से चलती है लेकिन बैटरी बिल्कुल डिस्चार्ज होने पर ही डीजल इंजन से बनी बिजली इलेक्ट्रिक मोटर को मिलती है।

टेकरूल्स के सीटीओ मैथ्यू जिन के अनुसार आम कारों में फ्यूल की केमिकल एनर्जी मैकेनिकल एनर्जी में बदलती है जिससे इंजन चलता है और पहिये घूमते हैं लेकिन इसमें एनर्जी का सही तरह से इस्तेमाल नहीं होता। वहीं इलेक्ट्रिक गाडिय़ों में इलेक्ट्रिक मोटर पहियों को घुमाती है। जिससे Ren में इंजन का काम सिर्फ केमिकल एनर्जी को मैकेनिकल और फिर इलेक्ट्रिक एनर्जी में बदलना ही रह जाता है। Ren में टर्बाइन इंजन रेंज एक्सटेंडर का काम करता है।
1700 किलो वजन और 350 किमी की टॉपस्पीड के बावजूद Ren एक गैलन यानि करीब 4 लीटर डीजल में 50 किलोमीटर चल सकती है।

Ren

टेकरूल्स ने Ren को भले ही 1287 बीएचपी के वर्जन में डिस्प्ले किया हो लेकिन कम्पनी की योजना इसके दो कम पावर वाले वर्जन भी लॉन्च करने की है। एंट्री लेवल वर्जन 429 बीएचपी का होगा जबकि मिड वर्जन 858 बीएचपी पावर वाला। साथ ही कम्पनी 14, 25 और 32 किलोवॉट के लीथियम बैटरी ऑप्शन भी देगी। दावा है कि ये बैटरी सिर्फ 15 मिनट में 80 परसेंट चार्ज हो जायेगी।

कम्पनी Ren को एक-दो और तीन सीट के केबिन लेआउट में पेश करेगी। 3-सीट लेआउट में ड्राइवर केबिन के बीचों बीच बैठेगा और अगल-बगल में एक-एक सवारी बैठ सकती है।

Ren में इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर के बजाय 3 स्क्रीन दिये गये हैं जिनमें कार के चारों ओर से लिये गये वीडियो फुटेज डिस्प्ले होते हैं। सीट्स में स्पीकर और माइक्रोफोन लगे हैं जिनसे पैसेंजर गाड़ी के बाहर मौजूद लोगों से बात कर सकते हैं।
पहले बैच में कम्पनी सिर्फ 96 गाडिय़ां बनायेगी जो सिर्फ रेसट्रेक के लिये होंगी। एक साल में टेकरूल्स ज्यादा से ज्यादा 10 Ren बना पायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here