Mercedes पर चीन में 350 करोड़ रुपये का जुर्माना

0
497

aMercedes Benz पर चीन के एंटी ट्रस्ट रेगुलेटर ने अपनी गाडिय़ों और स्पेयर पार्ट्स की मनमानी कीमत वसूलने के आरोप की जांच के नतीजों के आधार पर 57 मिलियन डॉलर यानि करीब 350 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। दुनिया के सबसे बड़े बाजार चीन में विदेशी कार कम्पनियों पर प्राइस फिक्सिंग के आरोप में जुर्माना लगाने का यह पहला मामला नहीं है। Mercedes से पहले Audi और Chrysler के अलावा जापान की कुछ स्पेयर पार्ट्स निर्माता कम्पनियों पर भी इसी तरह जुर्माना लगाया जा चुका है। China fines Mercedes $56.5 million for price fixing
चीन में एंटी मोनोपॉली कानून का उल्लंघन करने के आरोप में पिछले साल कई विदेशी कम्पनियों पर कार्यवाही की गई थी और अमेरिका की चिप निर्माता कम्पनी क्वॉलकॉम पर रिकॉर्ड 975 मिलियन डॉलर का जुर्माना लगाया गया था।
इस मामले में Mercedes Benz चायना के प्रवक्ता के हवाले से आये बयान में कहा गया है कि कम्पनी इस फैसले को स्वीकार करती है और कम्पीटिशन कानून का पालन करने की अपनी जिम्मेदारी को गंभीरता से निभा रही है।
चीन के एंट्री ट्रस्ट रेगुलेटर नेशनल डवलपमेंट एंड रिफॉर्म कमिशन यानि नियामक संस्था ने एक बयान में कहा कि Mercedes Benz ने जनवरी 2013 से जुलाई 2014 के बीच जियांगसु प्रांत के अपने डीलरों को कीमत को लेकर मौखिक आदेश दिये थे। इन आदेशों में कम्पनी ने डीलरों को ई और एस क्लास गाडिय़ों को तय कीमत से कम में नहीं बेचने और ऐसा करने पर कम्पनी की ओर से दी जाने वाली वित्तीय सहायता में कटौती करने की धमकी दी थी।
रेगुलेटर के अनुसार Mercedes वर्ष 2010 से ही डीलरों को स्पेयर पार्ट्स की तयशुदा कीमत वसूलने का आदेश देती रही है।
जियांगसु प्रांत में Mercedes Benz के खिलाफ पिछले साल अगस्त में जांच शुरू हुई थी और इस इलाके में कम्पनी की कुल बिक्री के 7 फीसदी के बराबर जुर्माना लगाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here