Scross को किल क्यों कर रही है Maruti?

0
407

maruti scross nexa networkबड़ी उम्मीद के साथ आई Maruti Scross सिर्फ डेढ़ साल में ही कम्पनी पर भारी पडऩे लगी है। नेक्सा नेटवर्क के इस पहले मॉडल की प्राइस में दो लाख रुपये से ज्यादा तक की कटौती करने के बावजूद सेल्स में फायदा नहीं मिलने को देखते हुये मारुति सुजुकी ने अब Maruti Scross के 1.6 लीटर इंजन के लोअर वैरियेंट्स कमजोर डिमांड के चलते बंद कर दिये हैं।
Maruti Scross 1.3 ली. और 1.6 ली. के इंजन में लॉन्च हुई थी लेकिन 1.6 लीटर इंजन वाले वैरियेंट्स की शुरू से ही बहुत कम डिमांड निकली है।

डिमांड को बूस्ट करने के लिये मारुति सुजुकी ने जनवरी 2016 में 1.6 ली. Maruti Scross के वैरियेंट्स की प्राइस में 2.05 लाख रुपये तक की बड़ी कटौती थी। डिस्पैच वॉल्यूम में बढ़ोतरी की उम्मीद में मारुति सुजुकी ने Maruti Scross के 1.3 ली. इंजन वैरियेंट्स की प्राइस में भी 40 से 66 हजार रुपये की कमी की थी।

2.05 लाख रुपये तक की बड़ी कटौती के बावजूद 1.6 ली. इंजन के लोअर वैरियेंट्स को बंद करने से साफ है कि प्रीमियम नेक्सा नेटवर्क का यह पहला मॉडल Maruti Scross जिसे कम्पनी अपना पहला क्रॉसओवर मॉडल कह रही थी को कस्टमर रेस्पॉन्स उम्मीद से बहुत कम मिला है।
मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि 1.6 लीटर इंजन के साथ Maruti Scross का केवल टॉप एंड एल्फा वैरिेयेंट ही बिक रहा है जिसकी दिल्ली में एक्स-शोरूम प्राइस 12.03 लाख रुपये है।
हालांकि कम्पनी Maruti Scross के 1.3 ली. इंजन वाले सभी तीनों वैरियेंट्स बेच रही है जिनकी दिल्ली में एक्स-शोरूम प्राइस 8.78 से 10.63 लाख रुपये के बीच है।
मारुति सुजुकी ने एक बयान में कहा है कि 1.6 ली. इंजन वाले सैगमेंट में कस्टमर फीचर लोडेड टॉप एंड वैरियेंट ही खरीदता है। ऐसे में कम्पनी वैरियेंट्स की संख्या कस्टमर की डिमांड को ध्यान में रखते हुये सीमित रखना चाहती है। Maruti Scross की परफॉर्मेन्स उम्मीद के हिसाब से ही है। इस मॉडल के जरिये कम्पनी ने प्रीमियम क्रॉसओवर नाम के नये सैगमेंट की शुरूआत की थी। कम्पनी हर महिने औसत 2000-2100 एस-क्रॉस बेच रही है।
sales comparison between Premium Crossover Maruti Scross and hyundai creta

Maruti Scross Vs. Hyundai Creta: कम्पनी ने Maruti Scross को अगस्त 2015 में लॉन्च किया था लेकिन डीलर डिस्पैच जुलाई में शुरू हो गये थे। दिसम्बर 2016 तक यानि 18 महिनों में Maruti Scross की कुल 39091 यूनिट्स बिकी हैं यानि हर महिने औसत 2200 मारुति एस-क्रॉस कस्टमर तक पहुंची है। जबकि इसी सैगमेंट में Hyundai Creta 19 महिनों में करीब 1.34 लाख बिक चुकी हैं यानि महिने में औसत 7 हजार।
यूवी में मारुति: सियाम की रिपोर्ट के अनुसार अप्रेल-दिसम्बर 2016 मेंं देश में कुल 556163 यूवी-एमपीवी गाडिय़ां बिकी जो 2015 के इन्हीं 9 महिनों में हुई 418213 यूनिट्स की सेल्स के मुकाबले 33 परसेंट ज्यादा है।
साल की शुरूआत में मारुति ने कॉम्पेक्ट एसयूवी मॉडल Vitara Brezza को लॉन्च किया था और इसकी अब तक 2 लाख बुकिंग हो चुकी हैं। विटारा ब्रेज़ा को मिले तगड़े रेस्पॉन्स के चलते मारुति सुजुकी ने इस सैगमेंट में अप्रेल-दिसम्बर के बीच कुल 143254 यूवी गाडिय़ां बेच दीं जबकि अप्रेल-दिसम्बर2015 में कम्पनी का यूवी सेल्स वॉल्यूम 63924 यूनिट्स ही था। विटारा ब्रेज़ा को मिले रेस्पॉन्स, अर्टीगा के जमे रहने और एस-क्रॉस के आने से मारुति सुजुकी का यूवी सैगमेंट में शेयर करीब 25 परसेंंट हो गया है।

लेकिन कमजोर टेकऑफ के बाद बड़ी प्राइस रीपोजिशनिंग और वैरियेंट्स बंद कर देने से साफ संकेत मिल रहे हैं कि Maruti Scross पर अब कम्पनी ज्यादा दांव नहीं लगाना चाहती। जुलाई में Maruti Scross का फेसलिफ्ट आने वाला है ऐसे में माना जा सकता है कि इसमें बड़े पैमाने पर फेरबदल होंगे ताकि नेक्सा नेटवर्क के डिस्प्ले में जगह बनाये रख पाये। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here