Mahindra डवलप कर रही है Ford Aspire का इलेक्ट्रिक अवतार

0
591

Ford Figo Aspireफोर्ड और महिन्द्रा एंड महिन्द्रा ने इलेक्ट्रिक वेहीकल्स डवलप करने के लिये जो पार्टनरशिप की थी उसके नतीजे दिखने लगे हैं। खबर है कि इस पार्टनरशिप के तहत डवलप पहली कार Ford Aspire Electric तैयार हो रही है और इसके अगले साल भारत में लॉन्च होने की संभावना है।

महिन्द्रा के सहयोग से तैयार हो रही Ford Aspire Electric अमेरिकी कम्पनी की सबसे कम प्राइस वाली इलेक्ट्रिक कार होगी।

अभी फोर्ड अपने कॉम्पेक्ट सेडान Aspire को पेट्रोल और डीजल इंजन के ऑप्शन में बेच रही है लेकिन जो Ford Aspire Electric जो कि तैयार हो रही है वो इससे ज्यादा लम्बाई की होगी।

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि Aspire Electric को फोर्ड मास मार्केट में उतारेगी साथ ही कम्पनी की नजर भारत सरकार के ईवी प्रोग्राम पर भी है जिसके तहत सरकारी इस्तेमाल के लिये अगले तीन-चार साल में पांच लाख इलेक्ट्रिक कारें खरीदी जानी हैं। Aspire Electric के जरिये फोर्ड इस मौके का फायदा उठाना चाहती है।

Ford Aspire Electric के अगले साल यानी 2019 में लॉन्च होने की संभावना है और यदि यह हो पाता है तो इलेक्ट्रिक कार लॉन्च करने के मामले में यह मारुति सुजुकी को पीछे छोड़ देगी। मारुति सुजुकी 2020 में अपना पहला इलेक्ट्रिक कार मॉडल लॉन्च करने का प्लान लेकर चल रही है।

2019 में ही ह्यूंदे भी कोना के नाम से इलेक्ट्रिक एसयूवी को भारत में लॉन्च करने की बात कह चुकी है।

Ford Aspire Electric के अलावा महिन्द्रा और फोर्ड के जॉइंट वेंचर के तहत एक एसयूवी मॉडल पर भी काम कर रहे हैं। बिल्कुल नये सिरे से तैयार हो रहे इस एसयूवी को नये प्लेटफॉर्म पर डवलप किया जा रहा है। यह प्लेटफॉर्म साझा होगा लेकिन बॉडी डिजायन दोनों कम्पनियां अपनी-अपनी डिजायन फिलोसॉफी और कस्टमर पोजिशनिंग को ध्यान में रखकर करेंगी।

माना जा रहा है कि Ford Aspire Electric का पावरट्रेन और कंट्रोल सिस्टम्स महिन्द्रा की e-Verito पर आधारित होगा। महिन्द्रा एंड महिन्द्रा ने अपने इलेक्ट्रिक सेडान मॉडल e-Verito की हाल ही ईईएसएल के टेंडर के लिये सप्लाई शुरू की है।

महिन्द्रा ई-वेरिटो में 72 वोल्ट की इलेक्ट्रिक मोटर के साथ 200 एम्पीयर की बैटरी लगी है जिससे यह सिंगल चार्ज में 110 किलोमीटर तक चल सकती है। इसमें फास्ट चार्जिंग सिस्टम भी दिया गया है जिससे इसकी बैटरी की 80 परसेंट चार्जिंग सिर्फ 2 घंटे में हो सकती है।

महिन्द्रा एंड महिन्द्रा और फोर्ड ने सितम्बर 2017 में पार्टनरशिप की थी। 3 साल के लिये हुई इस पार्टनरशिप के जरिये दोनों कम्पनियां इलेक्ट्रिक वेहीकल्स पर काम करेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here