300 किलोमीटर चलेगी Mahindra की XUV Aero इलेक्ट्रिक

0
485

Mahindra XUV Aeroऑटो एक्सपो2016 में डिस्प्ले XUV Aero को Mahindra इलेक्ट्रिक कार के रूप में लॉन्च करने की तैयारी कर रही है। महिन्द्रा ने पिछले दिनों ईवी 2.0 के नाम से नेक्स्ट जेनरेशन के इलेक्ट्रिक वेहीकल्स के लिये टेक्नोलॉजी व प्रॉडक्ट रोडमैप जारी किया है जिसके तहत नये इलेक्ट्रिक ड्राइवट्रेन का इस्तेमाल किया जायेगा। इस ड्राइवट्रेन से 41 से 204 एचपी की पावर जेनरेट होगी और इन गाडिय़ों की ड्राइव रेंज 250 से 350 किलोमीटर तक होगी। नये ड्राइवट्रेन वाली इलेक्ट्रिक गाडिय़ां सिर्फ 4-5 सैकंड में 60 किमी की स्पीड पकड़ लेंगी और टॉपस्पीड 200 किलोमीटर तक होगी और बैटरी सिर्फ 4 घंटे में चार्ज हो जायेगी।

अभी बैटरी डवलप हो रही है और इसे आने में करीब एक साल और लगेगा।

महिन्द्रा एंड महिन्द्रा के एमडी पवन गोयनका कहते हैं कि मार्केट बहुत छोटा है इसलिये 3-4 हाई-एंड इलेक्ट्रिक वेहीकल्स के लिये जगह नहीं हैं। या तो कम्पनी इटली के डिजायन स्टूडियो पिनइनफारिना के साथ मिलकर डवलप किये जा रहे मॉडल को लॉन्च करेगी या फिर एअरो इलेक्ट्रिक को। ज्यादा से ज्यादा दो हाई एंड इलेक्ट्रिक एसयूवी लॉन्च किये जा सकते हैं।

ऑटो एक्स्पो में Mahindra ने XUV Aero कॉन्सेप्ट को एमहॉक डीजल इंजन के साथ डिस्प्ले किया था।
गोयनका ने एक बयान में कहा है कि इलेक्ट्रिक XUV Aero सहित कुछ अन्य ऑप्शन्स पर विचार किया जा रहा है और इसे लॉन्च करने का फैसला हाई वोल्टेज इलेक्ट्रिक पावरट्रेन टेक्नोलॉजी की लागत पर निर्भर करेगा।

Mahindra अभी 380 वोल्ट के सिस्टम पर काम कर रही है जिसका इस्तेेमाल एसयूवी, एमपीवी और परफॉर्मेन्स वेहीकल्स में किया जा सकता है। महिन्द्रा एंड महिन्द्रा की सहयोगी कम्पनी Mahindra इलेक्ट्रिक के पोर्टफोलियो में फिलहाल ई2ओ, ई2ओ+, ई-वेरिटो और ई-सुप्रो आदि चार मॉडल हैं जिनमें 48 वोल्ट और 72 वोल्ट का सिस्टम लगा है।

महिन्द्रा एंड महिन्द्रा केयूवी100 के इलेक्ट्रिक अवतार पर भी काम कर रही है और दावा है कि यह दुनिया की सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक एसयूवी होगी।

जिस हाईकैपेसिटी इलेक्ट्रिक मोटर को कम्पनी डवलप कर रही है का इस्तेमाल प्राइवेट और कमर्शियल दोनों तरह की गाडिय़ों में किया जा सकेगा। कम्पनी की योजना कार, मिनीट्रक और एसयूवी के इलेक्ट्रिक अवतार लाने की है।

भारत सरकार 2030 तक बड़े पैमाने पर इलेक्ट्रिक गाडिय़ां लॉन्च करने की एक योजना पर काम कर रही है। इसके तहत ज़ीरो डाउनपेमेंट पर भी गाडिय़ां दिये जाने का प्रस्ताव है। सरकार की योजना है कि 2030 तक भारत में पेट्रोल/डीजल वाली एक भी गाड़ी नहीं बिके। दिसम्बर में लॉन्च होने वाली इस योजना को देखते हुये जीएसटी में इलेक्ट्रिक गाडिय़ों को 12 परसेंट टेक्स स्लैब में रखा गया है जबकि हाइब्रिड गाडिय़ों पर 28+15 यानि 43 परसेंट टेक्स लगेगा।
पिछले दिनों रोड ट्रान्सपोर्ट मिनिस्टर नितिन गडक़री ने नागपुर में इलेक्ट्रिक कैब सर्विस लॉन्च की है। ओला के सहयोग से शुरू की गई इस इलेक्ट्रिक कैब सर्विस के तहत 200 टेक्सी, ई-रिक्शा और ऑटो रिक्शा लॉन्च किये गये हैं।

गोयनका के अनुसार अभी कम्पनी हर महिने 200 इलेक्ट्रिक गाडिय़ां बना सकती है जिसे 2 साल में बढ़ाकर 5 हजार तक किया जा सकता है।

ट्रान्सपोर्ट मिनिस्ट्री के एक अधिकारी के अनुसार 3 महिने में ही इलेक्ट्रिक कार बैटरी की कीमत 30 परसेंट घट चुकी है। इलेक्ट्रिक कार की बैटरी करीब ढाई लाख रुपये की आती है और कम्पनियां इस पर पांच साल की वॉरंटी देती हैं । एक बैटरी करीब 2 लाख किलोमीटर तक चल सकती है।

यदि महिन्द्रा XUV Aero इलेक्ट्रिक को लॉन्च करती है तो इसकी प्रीमियम पोजिशनिंग होगी और प्राइस 25-30 लाख रुपये के करीब होगी। Photo Courtesy: NDTV

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here