लक्जरी कार पर फिर पड़ी टेक्स की मार, 10 परसेंट बढ़ गया GST सैस

0
346

audi emission scandalलोकसभा ने बुधवार को Luxury Car पर GST सैस को 15 परसेंट से बढ़ाकर 25 परसेंंट करने का बिल पारित कर दिया। सैस में की जा रही इस बढ़ोतरी के जरिये सरकार जीएसटी रोलआउट से राज्यों को रेवेन्यू में होने वाले नुकसान की भरपाई करेगी।

लोकसभा द्वारा पास किया गया GST (कम्पेंसेशन टू स्टेट्स) अमेंडमेंट बिल 2017 उस ऑर्डिनेन्स यानी अध्यादेश की जगह लेगा जो जीएसटी काउंसिल के फैसले पर कदम उठाते हुये सरकार सितम्बर में लाई थी।

इस अध्यादेश के जरिये सरकार को GST काउंसिल की सिफारिश के अनुसार मिड साइज़ से लक्जरी कार और हाइब्रिड कारों पर सैस को 25 परसेंट तक बढ़ाने का अधिकार मिल गया था।

लोकसभा में इस बिल पर हुई बहस में भाग लेते हुये वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि लक्जरी गाडिय़ों पर सैस बढ़ाने से जो रेवेन्यू मिलेगा उसका इस्तेमाल जीएसटी लागू होने से राज्यों को रेवेन्यू में होने वाले नुकसान की भरपाई के लिये किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि GST काउंसिल जिसमें राज्यों के वित्त मंत्री शामिल होते हैं की हर महिने मीटिंग होती है और इसमें रेवेन्यू कलेक्शन की समीक्षा की जाती है और उस आधार पर टेक्स को एडजस्ट किया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here