जनवरी 2019 में आयेगी भारत में Kia Motors की पहली कार

0
456

Kia Picanto

Hyundai की सहयोगी कोरियाई कार कम्पनी Kia Motors भारत में अपने पहले मॉडल को जनवरी 2019 में रोलआउट करने की तैयारी कर रही है।

Kia मोटर्स के आंध्रप्रदेश के अनंतपुर जिले के पेनुगोंडा प्लांट में फिलहाल काम चल रहा है और आंध्र प्रदेश के मंत्री नारा

लोकेश के अनुसार कम्पनी की कोशिश जनवरी 2019 में प्रॉडक्ट लॉन्च करने की है।

कोई पांच साल से चल रहे प्लान के बाद Kia मोटर्स ने कुछ महिने पहले अप्रेल मेें भारत में आने की घोषणा की थी। कम्पनी अपने इंडिया प्रॉजेक्ट को किस हद तक फास्ट ट्रेक कर चुकी है इसका अंदाजा इस बात से भी लग सकता है कि अगस्त में किया ने रिटेल नेटवर्क के लिये तैयारियां भी शुरू कर दीं। अगस्त में देश के कुछ बड़े शहरों में किया मोटर्स ने रोड शो का आयोजन किया था जिनमें रिटेल नेटवर्क बनाने की कवायद के तहत ऑटो डीलरों को बुलाया गया था और कम्पनी के प्लान का प्रजेंटेशन दिया गया था।

Kia  मोटर्स पेनुगोंडा प्लांट पर 1 अरब डॉलर का इन्वेस्टमेंट कर रही है और इस प्लांट की कैपेसिटी 3 लाख यूनिट्स की होगी।

हालांकि इंडिया प्लान की घोषणा करते हुये Kia मोटर्स ने कहा था कि प्लांट 2019 की दूसरी छमाही में शुरू हो पायेगा। लेकिन नारा लोकेश ने कहा है कि मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं और इस प्लांट से पहली गाड़ी जनवरी 2019 में बनकर निकलेगी।

Kia मोटर्स और ह्यूंदे मिलाकर दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी कार कम्पनी है। 2016 में दोनों कम्पनियों ने कुल 78.80 लाख गाडिय़ां बेची थीं लेकिन 1998 के बाद 2016 पहला साल रहा जब इनकी सेल्स में गिरावट आई।

हालांकि कम्पनी ने अभी आधिकारिक रूप से प्रॉडक्ट लाइनअप के बारे में कुछ नहीं कहा है कि लेकिन माना जा रहा है कि फरवरी में ऑटोएक्सपो में कम्पनी अपने मॉडलों को डिस्प्ले सकती है जिससे उसे कस्टमर रेस्पॉन्स का अंदाजा हो जायेगा।

भारत अभी दुनिया का पांचवा बड़ा कार मार्केट है और 2020 तक यह जर्मनी व जापान को पीछे छोड़ चीन व अमेरिका के बाद तीसरे पायदान पर आ सकता है। Hyundai और Kia मोटर्स अभी दुनिया के सबसे बड़े कार मार्केट चीन में विरोध व बायकॉट का सामना कर रही हैं। यही कारण है कि Kia मोटर्स ने अपने इंडिया प्रॉजेक्ट को फास्टट्रेक किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here