Motor Insurance: थर्ड पार्टी प्रीमियम में मामूली कटौती

0
501

car insurance rates bike insuranceThird Party Premium में 2016-17 के मुकाबले 40 परसेंट तक की बढ़ोतरी के खिलाफ देशभर के ट्रान्सपोर्टरों के बेमियादी हड़ताल पर चले जाने की धमकी और उनके द्वारा सडक़ परिवहन मंत्रालय व बीमा नियामक IRDA को दिये गये मैमोरेंडम ने अपना असर दिखाया है और आईआरडीए ने अब Third Party Premium में बढ़ोतरी को 40 परसेंट से घटाकर करीब 28 परसेंट कर दिया है।

इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया की ओर से जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है कि Third Party Premium की घटी हुई दरें 1 अप्रेल से ही लागू मानी जायेंगी।

IRDA ने पहले Third Party Premium में 40 परसेंट बढ़ोतरी की थी। नई घटी हुई रेट्स को आईआरडीए ने 17 अप्रेल को नोटिफाई किया है।

1 हजार सीसी से कम इंजन वाली कार के लिये Third Party Premium में कोई बदलाव नहीं करते हुये इसे 2055 रुपये पर ही बरकरार रखा गया था।

लेकिन 1000-1500 सीसी इंजन वाली कारों के लिये प्रीमियम 2237 से बढ़ाकर 3132 रुपये कर दिया गया था जिसे अब नये नोटिफिकेशन में घटाकर 2863 रुपये रखा गया है।

1500 सीसी से बड़े इंजन वाले पैसेंजर वेहीकल्स के लिये Third Party Premium को 8630 रुपये से घटाकर 7890 रुपये किया गया है। 

75 सीसी तक और 75 से 150 सीसी तक के टू-व्हीलर पर नये नोटिफिकेशन में Third Party Premium में कोई कटौती नहीं की गई है लेकिन 150 से 350 सीसी कैटेगरी के टू-व्हीलर पर थर्ड पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम को 970 रुपये से घटाकर 887 रुपये किया गया है जबकि 350 सीसी से ज्यादा बड़े इंजन वाले टू-व्हीलर पर अब 1114 रुपये के बजाय 1019 रुपये थर्ड पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम लगेगा।

भारत में सभी तरह के मोटोराइज्ड यानि इंजन या मोटर से चलने वाले वाहनों के लिये थर्ड पार्टी इंश्योरेंस लेना अनिवार्य है और यदि आप बिना थर्ड पार्टी मोटर इंश्योरेंस के गाड़ी चलाते हैं तो यह कानूनन अपराध है। इसके बावजूद देश में करीब 70 परसेंट टू-व्हीलर बिना इंश्योरेंस के चलते हैं। यदि आपकी गाड़ी से कोई एक्सीडेंट होता है तो पीडि़त पक्ष को शारीरिक या प्रॉपर्टी को हुये नुकसान की भरपाई थर्ड पार्टी इंश्योरेंस से ही की जाती है।

भारत सरकार ने नये मोटर वेहीकल एक्ट में थर्ड पार्टी इंश्योरेंस में लापरवाही को देखते हुये प्रावधान किया है कि यदि आप बिना थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के गाड़ी चलाते हैं तो एक्सीडेंट की स्थिति में पूरा क्लेम आपको भरना पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here