Test Ride & Review Honda Livo: लिव-इन विद लीवो

0
1296

honda-livoड्रीम सिरिज की बाइक्स पर बढ़ते दबाव को देखते हुये होन्डा टू-व्हीलर का फोकस अब अर्बन पोजिशनिंग वाले मॉडलों को प्रमोट करने पर है। कम्पनी ने साल की शुरूआत में Unicorn160 को लॉन्च किया था जो अब अपने सैगमेंट में TVS Apache के बाद दूसरा बेस्ट सेलर मॉडल है। 125 सीसी सैगमेंट में Honda Shine का पहले ही  दबदबा है और ऐसे में कम्पनी 110 सीसी के कम्यूटर सैगमेंट में अपना वॉल्यूम बढ़ाना चाहती है। इसी दिशा में काम करते हुये होन्डा मोटरसाइकल एंड स्कूटर्स इंडिया यानि एचएमएसआई ने हाल ही Honda Livo के नाम से नई बाइक लॉन्च की है। इस सैगमेंट में पहले कम्पनी के पोर्टफोलियो में अर्बन पोजिशनिंग वाली Honda Twister थी लेकिन यह सेल्स के मोर्चे पर इसकी परफॉर्मेन्स उम्मीद से बहुत कमजोर साबित हुई थी अब इसी की जगह Honda Livo को पेश किया गया है। ट्विस्टर की स्टायलिंग बहुत शार्प थी और माना जाता है कि इसके चलते यह ज्यादा कस्टमर को पसंद नहीं आई। कह सकते हैं कि ट्विस्टर की डिजायन थीम को टोन डाउन कर कम्पनी ने Honda Livo को तैयार किया है। भारत के बाइक सैगमेंट में 110 सीसी तक के मॉडलों का योगदान करीब 60 फीसदी है और हर साल 70 लाख के करीब बाइक्स इस सैगमेंट में बिकती हैं। ऐसे में होन्डा यदि बाइक सैगमेंट में अपना हिस्सा बढ़ाना चाहती है तो 110 सीसी तक के इस सैगमेंट को नजरअंदाज नहीं कर सकती। बस इसी को ध्यान में रखते हुये कम्पनी ने Honda Livo को लॉन्च किया है।
Honda Livo Consolडिजायन एंड स्टाइल: कम्पनी Honda Livo को कम्यूटर सैगमेंट में एस्पिरेशनल मॉडल के रूप में पेश कर रही है ऐसे में Honda Livo की डिजायन में आपको हर कहीं स्टाइल नजर आयेगी और यही स्टायलिंग इसे अपने सैगमेंट के दूसरे कम्यूटर बाइक मॉडलों से अलग खड़ा करती है। साइड ओवरव्यू से Honda Livo बहुत ही कॉम्पेक्ट और नपी-तुली डिजायन वाली गाड़ी है। फ्यूल टेंक का एंगुलर डिजायन और उस पर लगे खास बॉडी पैनल इसे माचो बनाते हैं और स्पोर्टी फील देते हैं। हैडलैम्प का डिजायन काफी हद तक Unicorn160 से प्रभावित है और ड्यूअल टोन बिकिनी फेयरिंग इसे फ्रेश अहसास देती है। बॉडी पर किसी तरह के ग्राफिक का इस्तेमाल नहीं किया गया है यहां तक कि ब्रांड मॉनीकर भी साइड पैनल पर है। इंस्ट्रूमेंट पेनल टू डायल है और यह पूरी तरह से एनेलॉग है जो कि Honda Livo जैसे अपने सैगमेंट में प्रीमियम पोजिशनिंग वाले मॉडल के लिहाज से बेमेल है। Honda Livo की जो एंगुलर डिजायन थीम है वो इंस्ट्रूमेंट पेनल में भी साफ नजर आती है और डायल हाउसिंग से लेकर इंडिकेटर, न्यूट्रल गियर और डिपर फ्लेश में भी। लेकिन लाइट स्विच बहुत छोटा है और इसे चलती गाड़ी में तलाशना और ऑपरेट करना ज्यादा सुविधाजनक नहीं है। Honda Livo का साइड प्रॉफाइल ड्यूअल टोन है जिसमें ब्लैक और बॉडी कलर का कॉम्बीनेशन बनाया गया है। इंजन, एक्जॉस्ट, व्हील और साइड बॉडी पैनल ब्लैक मैट फिनिश में हैं वहीं शॉक एब्जॉर्बर की कॉइल स्प्रिंग रैड कलर में। मफलर टू पीस में है जो नयापन देता है। साइड प्रॉफाइल के लिहाज से Honda Livo बहुत रिच नजर आती है।
इंजन: Honda Livo में ड्रीम सिरिज बाइक्स वाले ही 110 सीसी के फोर स्ट्रोक इंजन का इस्तेमाल किया है। इस इंजन से 8.2 बीएचपी पावर और व.63 एनएम का टॉर्क मिलता है। Honda Livo को अर्बन पोजिशनिंग के साथ लॉन्च किया है ऐसे में शहरों के ट्रेफिक को ध्यान में रखते हुये लो एंड टॉर्क पर ध्यान दिया है। एचईटी इंजन बहुत स्मूद है और नॉइस व वाइब्रेशन नहीं के बराबर हैं। वैसे यही बात होन्डा के इंजनों की खासियत भी है। गियर चार है और मायलेज 74 किमी मिल सकता है।
Honda Livo PriceLivo राइड: 1285 मिमी के व्हील बेस पर डायमंड फ्रेम पर तैयार Honda Livo का डिजायन बहुत कॉम्पेक्ट है और वजन सिर्फ 111 किलो जो इसे बहुत बैेलेंस्ड और ईजी टू हैंडल बाइक बनाते हैं। फ्रंट सस्पेंशन टेलीस्कोपिक फोर्क और रिअर सस्पेंशन स्प्रिंग लोडेड हाइड्रॉलिक है जो रोड पर ग्रिप के लिहाज से बहुत बढिय़ा है, ऊबड़-खाबड़ रास्ते पर हैंडलिंग में परेशानी नहीं होगी। कम्पनी ने लीवो को ड्रम और डिस्क ब्रेक वैरियेंट्स में लॉन्च किया है। सीटिंग पोस्चर आम कम्यूटर बाइक्स की तरह अपराइट है।
ओवरऑल Honda Livo अपने सैगमेंट में परफॉर्मेन्स के मामले में मजबूत मॉडल है और इसका फायदा कम्पनी को कम्यूटर सैगमेंट में अपना शेयर बढऩे के रूप में मिलना चाहिये।