अब! Ford बदलेगी वन मॉडल कम्पनी के रूप में अपनी पहचान

0
846

000दो सबसे बड़ी अमेरिकी कार कम्पनियों Ford और General Motors को भारत आये करीब बीस साल हो चुके हैं लेकिन दोनों ही मार्केट शेयर के मामले में बहुत कमजोर साबित हो रही हैं। जनरल मोटर्स के सामने सबसे बड़ी चुनौती कस्टमर का कॉन्फीडेंस हासिल करने की है। लेकिन इस मामले में Ford की स्थिति बेहतर है। Ford Ikon से लेकर Ford Fiesta और Ford Figo से लेकर Ford Ecosport तक फोर्ड को भारत के घर-घर का ब्रांड बनाने में कामयाब रहे हैं। लेकिन कम्पनी की सबसे बड़ी परेशानी प्रॉडक्ट लाइनअप की है।
Ford Figo 2010 में आई थी और जब यह पुरानी पडऩे लगी वॉल्यूम गिरने लगी तब जाकर Ford Ecosport जून 2013 में आई। ईकोस्पोर्ट को आये दो साल से ज्यादा हो चुके है और नये लॉन्च के मामले के लिहाज से कम्पनी का रजिस्टर बिल्कुल खाली है। प्रॉडक्ट लाइनअप नहीं होने के कारण फोर्ड की भारत में पहचान वन मॉडल कम्पनी के रूप में रही है लेकिन कम्पनी अब इसे बदलने की कोशिश कर रही है।

Also Read: Ford India ने 91 हजार तक घटाईं Ford Figo और Ford Aspire की प्राइस

Test Drive Ford Figo Aspire: Bold @ Front

आइकॉनिक स्पोर्ट्स कार Ford Mustang भारत में 65 लाख में लॉन्च

फोर्ड ने पिछले ऑटो एक्स्पो में कॉम्पेक्ट सेडान Ka+ को डिस्प्ले किया था जो अगले महिने Aspire के नाम से लॉन्च होगी। कम्पनी ने अब कहा है कि वह अगले 9 महिनों में 3 मॉडल लॉन्च करेगी। यह कम्पनी के भारत में 20 साल के इतिहास में पहला मौका है जब एक साल में तीन मॉडल लॉन्च कर रही है।
फोर्ड इंडिया के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक नाइजल हैरिस के अनुसार सबसे पहले Ford Aspire आयेगी इसके बाद Ford फोर्ड का नई पीढ़ी का अवतार लॉन्च होगा। नई पीढ़ी की टॉप एंड एसयूवी Ford Endeavor भी लॉन्च प्लान में है।
Aspire के जरिये कम्पनी की कोशिश Maruti Dzire, Hyundai Xcent, Honda Amaze और Tata Zest के दबदबे वाले कॉम्पेक्ट सेडान सैगमेंट में वॉल्यूम हासिल करने की है। कड़े मुकाबले वाले इस सैगमेंट में हर महिने 30-35 हजार यूनिट्स की बिक्री होती है। लेकिन नाइजल हैरिस को उम्मीद है कि इस सैगमेंट में अब भी अच्छा वॉल्यूम हासिल करने के मौके हैं।
Ford Aspire अपने सैगमेंट का पहला मॉडल होगा जिसमें दो फ्रंट एअरबैग स्टेन्डर्ड फीचर के रूप में मिलेंगे।
एंडेवर नीश मॉडल है लेकिन Ford Aspire और Ford Figo वॉल्यूम सैगमेंट मेंं आयेंगे। यदि ये कम्पनी की उम्मीदों पर खरे उतरते हैं तो Ford Ecosport के साथ मिलकर फोर्ड को भारत में नई दिशा दे सकते हैं।
हैरिस के अनुसार अभी देश में फोर्ड के 341 आउटलैट हैं और अगले वर्ष के आखिर तक कम्पनी 100 नये आउटलैट खोलने का लक्ष्य लेकर चल रही है जिनमें से ज्यादातर टियर-3 शहरों में खुलेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here