Emission Scandal : Volkswagen ने Das Auto से किया किनारा

0
464

volkswagen das autoEmission Scandal के चलते 1 करोड़ से ज्यादा कारों को रीकॉल करने के बाद दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी कार कम्पनी फोक्सवैगन अब अपनी ब्रांड इमेज को चमकाने की कोशिश में लगी है। इस दिशा में पहला कदम उठाते हुये फोक्सवैगन अपनी ब्रांड लाइन दस ऑटो (Das Auto) से किनारा करने की तैयारी कर रही है। दस ऑटो यानि…द कार।

फोक्सवैगन पर आरोप है कि इसने अपने डीजल इंजन में स्मार्ट सॉफ्टवेयर जिसे डिफीट डिवाइस (Defeat Device) कहा जा रहा है लगाया जिससे लैब टेस्ट में तो एमिशन रिपोर्ट सही आती लेकिन गाड़ी सडक़ पर चलने के दौरान सॉफ्टवेयर का एमिशन कंट्रोल सिस्टम बंद हो जाता और तय मानक से कई्र गुना ज्यादा धुआं छोड़ती। 
Emission Scandal सामने आते ही सबसे पहले कम्पनी के सीईओ मार्टिन विंटरकॉर्न को कम्पनी से बाहर का रास्ता दिखाया गया था। रॉयटर की रिपोर्ट के अनुसार Das Auto (दस ऑटो) ब्रांड लाइन को 2007 में मार्टिन विंटरकॉर्न ने ही लॉन्च किया था। हालांकि कम्पनी दस ऑटो को तुरंत बंद करने की घोषणा नहीं करेगी लेकिन अब यह फोक्सवैगन लोगो बैज के साथ नजर नहीं आयेगी। कम्पनी के प्रवक्ता के अनुसार VW लोगो के साथ अब Volkswagen शब्द जोड़ा जायेगा और धीरे-धीरे इसे दुनियाभर के देशों में रोल आउट किया जाना है।
2015 की जनवरी से जून की छह महिने की अवधि में सेल्स वॉल्यूम के लिहाज से टोयोटा को पीछे छोडऩे में कामयाब रही फोक्सवैगन को सितम्बर में इस Emission Scandal के सामने आने से ब्रांड साख के मामले में बड़ा नुकसान हुआ है और कम्पनी की इस नई ब्रांडिंग मुहिम को इसे दुरुस्त करने की कोशिश माना जा रहा है।
ऑडी, बुगाती, स्कोडा, साब, पोर्शे आदि कार , दुकाती बाइक और स्कानिया ट्रक ब्रांड की मालिक फोक्सवैगन की स्थापना दूसरे वल्र्ड वॉर के दौर में हुई थी। फोक्सवैगन का जर्मन भाषा में अर्थ पीपुल्स ऑटोमोबाइल होता है यानि आम जनता की गाड़ी।
फोक्सवैगन के सामने एक ओर क्लास एक्शन सूट सहित दुनिया के कई देशों में दायर कानूनी मामलों से निपटने की चुनौती है दूसरी ओर रिकॉर्ड जुर्माना भी लग सकता है। स्मार्ट सॉफ्टवेयर (Defeat Device) के कारण रीकॉल की गई एक करोड़ से ज्यादा कारों के लिये टेक्नोलॉजी सॉल्यूशन तलाशने के साथ ही ग्राहकोंं के भरोसे यानि कस्टमर ट्रस्ट को भी फिर से हासिल करना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here