Crash Test : Volkswagen Polo और Vento में एबीएस और ड्यूअल एअरबैग स्टेन्डर्ड

0
380

volkswagen ameoअगले साल से अगले साल से Crash Test सेफ्टी रेटिंग लागू हो जाने को देखते हुये देखते हुये फोक्सवैगन ने पोलो और वेंतो के सभी वैरियेंट्स में एबीएस और ड्यूअल एअरबैग को स्टेन्डर्ड फीचर के रूप में शामिल किया है। कम्पनी ने कहा है कि नये स्टेन्डर्ड फिटमेंट वाली ये Volkswagen Polo और Vento गाडिय़ां कम्पनी की सभी डीलरशिप्स पर उपलब्ध है।

फोक्सवैगन पैसेंजर कार इंडिया के डायरेक्टर माइकल मायर के अनुसार फोक्सवैगन में सेफ्टी कोई लक्जरी नहीं बल्कि बेसिक फीचर है।

Volkswagen Polo को Crash Testमें अडल्ट प्रॉटेक्शन के मामले में 4-स्टार रेटिंग मिली है।
टोयोटा ऐसी पहली कम्पनी है जिसने भारत में अपने मॉडलों के सभी वैरियेंट्स में सबसे पहले ड्यूअल एअरबैग को स्टेन्डर्ड फीचर के रूप में शामिल किया था।

भारत में अक्टूबर 2017 से Bharat NCap Crash Test लागू हो जायेगा। इसके तहत सभी नये मॉडलों को फ्रंटल और साइड इम्पेक्ट Crash Test से गुजरना होगा और इस आधार पर स्टार रेटिंग दी जायेगी। Bharat NCap में उन गाडिय़ों की रेटिंग बेहतर होगी जिनमें एअरबैग, एबीएस, हाई स्पीड अलर्ट और रिवर्स पार्किंग सेंसर आदि बेसिक फीचर होंगे।

भारत की पहचान दुनिया की रोड एक्सीडेंट कैपिटल के रूप में है। देश में हर वर्ष करीब 1.5 लाख लोगों की सडक़ हादसों में मौत हो जाती है।

वर्ष 2014 में ऑटो एक्स्पो से ऐन पहले गलोबल एनकैप ने कई बेस्ट सेलर मॉडलों के Crash Test में फेल होने की रिपोर्ट रिलीज़ कर धमाका कर दिया था। इसके बाद से मारुति ऑल्टो, स्विफ्ट, टाटा नैनो, महिन्द्रा स्कॉर्पियो, रेनो क्विड, होन्डा मोबिलिओ, ह्यूंदे आई10, फोक्सवैगन पोलो व डेटसन गो सहित दर्जन भर से ज्यादा मॉडलों की Crash Test रिपोर्ट जारी की जा चुकी है।

फोक्सवैगन इंडिया के पोर्टफोलियो में पोलो, वेंतो, जेटा, आमियो, बीटल और पोलो जीटीआई आदि 6 मॉडल हैं। इनमेंं से पोलो, वेंतो और आमियो में कम्पनी ने एअरबैग और एबीएस को स्टेन्डर्ड किया है।

Global NCap में जहां ज़ीरो से लेकर 5-स्टार तक रेटिंग दी जाती है वहीं भारत में स्टेन्डर्ड रेटिंग 0 से 4.5 तक होगी। इसके लिये गाडिय़ों को 56 किलोमीटर की स्पीड पर Crash Test किया जायेगा जबकि 5-स्टार रेटिंग उन गाडिय़ों को मिलेगी जो 64 किलोमीटर की स्पीड पर फ्रंटल Crash Test में कामयाब रहेंगी। साइड Crash Test 50 किलोमीटर की स्पीड पर किया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here