Ciaz ने बदल दी मारुति की स्मॉल कार पहचान

0
841

ciaz vs competition10 मॉडलों की मौजूदगी के बावजूद मारुति सुजुकी नये मॉडल Ciaz के जरिये मिड सेडान सैगमेंट में पहली बार कामयाबी के संकेत दे रही है। Ciaz के डिस्पैच सितम्बर से शुरू हुये और इसकी लॉन्चिंग अक्टूबर में हुई थी। शुरूआत 9 महिनों में कम्पनी ने 42105 Ciaz बेची हैं औैर इस लिहाज से यह होन्डा की बेस्ट सेलर City के बाद दूसरे पायदान पर है।
होन्डा ने इन 9 महिनों में 62786 City बेची हैं यानि हर महिने औसत करीब 7 हजार। वहीं Ciaz का मासिक औसत 4678 यूनिट्स है। Ciaz: Power & Price Comparison
मारुति की ओर से खबर आ रही है कि कम्पनी ने इन नौ महिनों में करीब 9 हजार Ciaz का एक्सपोर्ट भी किया है यानि Ciaz की कुल सेल्स 50 हजार यूनिट्स के पार रही।
दूसरी ओर इस सैगमेंट में ह्यूंदे Verna, फोक्सवैगन Vento, स्कोडा Rapid, निसान Sunny, रेनो Scala, फिएट Linea और फोर्ड Fiesta आदि मॉडल भी मौजूद हैं।
तीसरे पायदान पर ह्यूंदे की Verna है और इन नौ महिनों में इसकी कुल 20786 यूनिट्स की बिक्री हुई यानि महिने में औसत 2300। फोक्सवैगन Vento और इसके रीबैज अवतार स्कोडा Rapid का औसत 1000-11 00 यूनिट्स का है।
मारुति स्मॉल कार ब्रांड के रूप में अपनी पहचान को बदलने के लिये पहले भी कोशिश कर चुकी है। लेकिन यह पहला मौका है जब मारुति मिड सेडान सैगमेंट में कामयाब नजर आ रही है। बलेनो और एसएक्स4 होन्डा सिटी की मोनोपॉली के आगे टिक नहीं पाईं।
मारुति का दावा है कि अब तक भारत में बिकीं Ciaz में से 65 फीसदी कम्पनी के मौजूदा कस्टमर ने खरीदी इनमें भी 33 फीसदी ऐेसे हैं जिन्होंने स्विफ्ट और डिज़ायर से अपग्रेड किया है।
यानि Ciaz के जरिये मारुति अपने ग्राहकों को वैल्यू फोर मनी अपग्रेड ऑप्शन देने में कामयाब रही है और इस तरह अपग्रेड चाहने वाले अपने कस्टमर को दूसरे ब्रांड की ओर छिटकने से रोक पाने में सफल रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here