Auto Expo: Sunshine स्कूल बस सहित Ashok Leyland के 4 न्यू टेक्नोलॉजी फ्यूचर प्रॉडक्ट्स

0
830

Ashok Leyland Sunshine Busकमर्शियल वेहीकल बनाने वाली देश की दूसरी सबसे बड़ी कम्पनी Ashok Leyland ने ऑटो एक्स्पो में न्यू टेक्नोलॉजी डेमोन्स्ट्रेशन के साथ ही फ्यूचर मॉडलों को डिस्प्ले किया है।

देश में 2020 से भारत स्टेज-6 एमिशन नॉर्म लागू होंगे और इस दिशा में अपनी तैयारी का सबूत देते हुये अशोक लेलैंड ने ऑटो एक्स्पो में 4940 Euro-6 नाम से ट्रेक्टर हॉर्स को प्रदर्शित किया है। यूरो-6 मानकों की अनुपालन के लिये गैस और पर्टिकुलेट मैटर उत्सर्जन में भारी कमी लानी पड़ती है जो मौजूदा यूरो-3 उत्सर्जन मानकों के मुकाबले दस फीसदी के बराबर ही हैं। इतने कड़े मानकों के इंजन व एमिशन टेक्नोलॉजी का विकास करने से कम्पनी की टेक्नोलॉजी काबिलियत का अंदाजा होता है साथ ही इस टेक्नोलॉजी का विकास ज्यादातर भारत में मौजूद संसाधनों से किया गया है।
टेक्नोलॉजी डेमॉन्स्ट्रेशन एजेंडा के साथ अशोक लेलैंड ने ऑटो एक्स्पो में हाईब्रिड बस को Hybus के नाम से भी डिस्प्ले किया है। कम्पनी का दावा है कि हाइबस देश की पहली नॉन-प्लगइन हाईब्रिड बस है। इससे प्रदूषण में कमी आती है और मायलेज में सुधार होता है। शहर के स्टार्ट-स्टॉप ट्रेफिक को ध्यान में रखकर डवलप की गई इस बस में डीजल इंजन के साथ अल्ट्रा कैपेसिटेटर्स का इस्तेमाल किया गया है।

Guru के नाम से डिस्प्ले आईसीवी ट्रक को कम्पनी मॉर्डन और वर्सेटाइल कह रही है। गुरू का बॉडी वेट अपने सैगमेंट में सबसे कम है और लोडिंग क्षमता सबसे अधिक है। इसमें एच-सीरिज सीआरएस इंजन है जिससे बढिय़ा मायलेज मिलता है और मेंटीनेन्स कॉस्ट कम है। कम्पनी ने गुरू में एल्यूमिनियम अलॉय व्हील और एल्यूमिनियम लोड बॉडी फिटमेंट्स का इस्तेमाल किया है।

Ashok Leyland ने Auto Expo में जो चौथा प्रॉडक्ट डिस्प्ले किया है वो Sunshine स्कूल बस है। सभी जरूरी बेसिक सुरक्षा मानकों पर खरी होने के साथ ही यह इसमें बहुत खास सुरक्षा फीचर दिये गये हैं जिससे पलटी खाने या सामने से भिडंत होने की स्थिति में नुकसान की आशंका अपेक्षाकृत कम होगी। इसमें बहुत खास आई-अलर्ट सिस्टम दिया गया है जिससे माता-पिता स्कूल बस पर लगातार नजर रख सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here