Emission Scandal : भारत में फिलहाल रुकी Audi Q5 की सेल्स

0
140

audi Q5 recall emission testing scandal

Emission Scandal में गड़बड़ी फोक्सवैगन ग्रुप का पीछा नहीं छोड़ रहा है। पिछले सप्ताह स्कोडा ने सुपर्ब को रीकॉल किया था अब फोक्सवैगन समूह के लक्जरी ब्रांड Audi ने अपने क्रॉसओवर एसयूवी मॉडल Audi Q5 की सेल्स को रोक दिया है।
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार Audi Q5 के डीजल वैरियेंट की जांच के दौरान नाइट्रोजन ऑक्साइड का उत्सर्जन लेवल तय मानक से कहीं ज्यादा पाया गया।
इस टेस्ट रिपोर्ट के सामने आने के बाद कम्पनी ने Q5 के उत्पादन और बिक्री दोनों को फिलहाल रोक दिया है। ऑटोमोटिव रिसर्च एसोसियेशन ऑफ इंडिया यानि ARAI की जांच में Audi Q5 के डीजल वैरियेंट का उत्सर्जन तय लेवल से ज्यादा रिपोर्ट किया गया था। हालांकि इसका कारण गाड़ी के कूलैंट सिस्टम में हवा का फंस जाना बताया जा रहा है।
ऐसे में कम्पनी ने डीलरशिप्स से Audi Q5 को वापस बुला लिया है और सुधरी हुई गाडिय़ां डीलरशिप पर पहुंचने ही वाली हैं।
सूत्रों के अनुसार Audi India ने नाइट्रोजन ऑक्साइड के लेवल को मैनेज करने के लिये सॉफ्टवेयर को री्ट्यून किया है।
Audi India के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा है कि Audi Q5 के मामले की जांच कर सॉल्यूशन तलाश लिया गया है। Audi Q5 के लिये जो सॉल्यूशन तलाशा गया है उसे एआरएआई के साथ मिलकर परख लिया गया है। यह समस्या अब खत्म हो गई है। सुधार के बाद किये गये टेस्ट में नाइट्रोजन ऑक्साइड तय मानकों के अनुरूप ही पाई गई। कम्पनी ने अब टाइप अप्रूवल की प्रक्रिया पर काम शुरू किया है और इसके जल्दी ही मंजूर हो जाने की उम्मीद है।
कम्पनी को फेस्टिव सीजन के ऐन मौके पर Audi Q5 को डीलरशिप से वापस बुलाना पड़ा है।
कुछ महिने पहले फोक्सवैगन ग्रुप ने Emission Scandal के चलते भारत से 3.23 लाख गाडिय़ों को रीकॉल किया था। अमेरिका सहित वल्र्ड मार्केट में फोक्सवैगन ग्रुप 1.10 करोड़ डीजल गाडिय़ों को रीकॉल कर रहा है। अमेरिका में फोक्सवैगन ग्रुप को 15 अरब डॉलर का मुआवजा देना पड़ा है जबकि यूरोप में भी इन्वेस्टरों ने कम्पनी पर 9 अरब डॉलर का क्लास एक्शन सूट दायर किया है।
भारत से फोक्सवैगन ग्रुप फोक्सवैगन, स्कोडा और ऑडी ब्रांड के तहत बिकने वाली डीजल गाडिय़ों के रीकॉल की प्रक्रिया शुरू कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here