साल 2016 मे भारत में Road Accidents में प्रति घंटे 17 लोगों की हुई मौत’

0
259

who will bear road accident claim: registered owner or real user second party साल 2016 में औसतन एक घंटे में 55 सड़क दुर्घटनाएं हुयी जिनमें 17 लोगों की मौत हो गयी। इनमें से करीब आधे लोगों की उम्र 18 से 35 साल के बीच है।

यह जानकारी आज यहां जारी एक सरकारी रिपोर्ट में सामने आयी है।

हालांकि, कुल मिलाकर सड़क हादसों में 4.1 प्रतिशत की गिरावट आयी है लेकिन मृत्यू दर में 3.2 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुयी है। इसका अर्थ है कि सड़क पर रोजाना 400 से ज्यादा लोग मारे जाते हैं।

भारत में पिछले साल कुल 4,80,652 सड़क दुर्घटनाएं हुयी हैं जिसमें 1,50,785 लोगों की जान गयी और 4,94,624 लोग गंभीर रूप से घायल हो गये।

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी द्वारा जारी रिपोर्ट के मुताबिक हादसे के शिकार लोगों में 46.3 प्रतिशत लोग युवा थे और उनकी उम्र 18-35 साल के बीच है। यह रिपोर्ट भारत में वर्ष 2016 में हुयी दुर्घटनाओं पर आधारित है।

इसमें बताया गया है कि कुल सड़क हादसों में शिकार होने वाले लोगों में 18 से 60 साल उम्र के बीच के 83.3 प्रतिशत लोग थे।

पुलिस के आंकड़ों पर आधारित रिपोर्ट के मुताबिक, सड़क हादसों (84 प्रतिशत), मौत (80.3 प्रतिशत) और घायल (83.9 प्रतिशत) के लिए सबसे अधिक जिम्मेदार एकमात्र कारण चालकों की लापरवाही है।

इस रिपोर्ट में बताया गया है कि 13 राज्यों में 86 प्रतिशत हादसे होते हैं। ये राज्य तमिलनाडु, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, गुजरात, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, हरियाणा, केरल, राजस्थान और महाराष्ट्र है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here