टाटा ज़ेस्ट डीजल ऑटोमेटिक के लिये लम्बी वेटिंग

0
1211

Tata-Zest

टाटा मोटर्स ने कहा था कि ज़ेस्ट सबसे सस्ती डीजल ऑटोमेटिक कार होगी। लेकिन मारुति सेलेरियो की तरह इसके एएमटी वैरियेंट की भी वेटिंग बहुत लम्बी चली गई है। पिछले दिनों कम्पनी की एक अधिकारी से बात हुई तो उन्होंने कहा कि डीजल ऑटो वैरियेंट नवम्बर में ही टेस्ट ड्राइव के लिये उपलब्ध हो पायेगा..अभी गाड़ी ही नहीं है।
मैगनेटी मरेली के ऑटो मैन्यूअल ट्रान्समिशन सिस्टम से लैस मारुति सेलेरियो को आये छह महिने हो चुके हैं फिर भी एएमटी वैरियेंट के लिये वेटिंग छह महिने के करीब है।
टाटा मोटर्स के डीलर्स के अनुसार ज़ेस्ट के लिये ज्यादातर पूछताछ इसी एफ-ट्रॉनिक एएमटी वैरियेंट के लिये हो रही है और बड़ी तादाद में ग्राहक इसे खरीदने के लिये शोरूम आ रहे हैं। इस वैरियेंट के अभी वैटिंग करीब 4 महिने की है।
मैगनेटी मरेली इस एएमटी सिस्टम के उत्पादन के लिये मानेसर में संयंत्र लगा रही है। लेकिन फिलहाल इसकी बहुत सीमित सप्लाई मिल पा रही है इसके कारण मारुति सेलेरियो की तरह ज़ेस्ट एएमटी के लिये भी वेटिंग आने वाले दिनों में और बढऩे की आशंका है। वैसे भी खबर है कि मैगनेटी मरेली एएमटी गियर बॉक्स की सप्लाई में टाटा के बजाय मारुति को प्रिफरेंस दे रही है। हालांकि टाटा मोटर्स के पैसेंजर डिविजन के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट गिरीश वाघ कहते हैं कि एएमटी किट की सप्लाई के लिये टाटा मोटर्स का मैनेजमेंट लगातार फिएट की सहयोगी मैगनेटी मरेली के सम्पर्क में है।
टाटा मोटर्स के डीलर्स का कहना है कि अच्छे फीचर पैकेज और आक्रामक कीमत के चलते ज़ेस्ट को अच्छा रेस्पॉन्स व फीडबैक मिल रहा है। मैन्यूअल ट्रान्समिशन वैरियेंट के लिये भी वेटिंग एक-डेढ़ महिने तक पहुंच चुकी है। कम्पनी ने कहा है कि अब तक ज़ेस्ट के लिये उसे 25 हजार पूछताछ मिली हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here