एअरबैग नहीं खुला टोयोटा देगी 25 लाख हर्जाना

0
1444

Toyota-Fortuner-in-Indiaसुप्रीम कोर्ट में टोयोटा किर्लोस्कर इंडिया ने हादसे में फॉरच्यूनर एसयूवी का एअरबैग नहीं खुलने और इसमें ड्राइवर की मौत व दो अन्य के घायल हो जाने के मामले में 25 लाख रुपये का हर्जाना देने की बात कही है। ये अपने आप में पहला मामला है जब भारत में किसी कार कम्पनी ने हादसे में एअरबैग नहीं खुलने और मौत के मामले में हर्जाना दिया है और इससे ऐसे ही मामलों में पीडि़त हजारों लोगों के लिये एक नई राह खुल सकती है।
टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार इस मामले में गौतम शर्मा ने कहा कि कम्पनी और डीलर ने टोयोटा फॉरच्यूनर को सेफ गाड़ी बताकर उन्हें धोखा दिया है। नवम्बर 2012 में उनकी गाड़ी खम्भे से टकराकर पलट गई थी और इस हादसे में ड्राइवर की मौत हो गई जबकि गौतम शर्मा और उनके गनर को गंभीर चोटें आईं। गौतम शर्मा ने टोयोटा किर्लोस्कर इंडिया के निदेशकों को भी इस हादसे के लिये जिम्मेदार मानते हुये आरोपी बनाया था।
हालांकि टोयोटा किर्लोस्कर इंडिया ने अपना बचाव करते हुये कहा कि चूंकि गाड़ी सामने से भिडऩे के बजाय पलटी थी इसलिये एअरबैग नहीं खुल पाये थे।
ऐसा ही एक हादसा वर्ष 2011 में जयपुर में हुआ था जिसमें एअरबैग नहीं खुलने से मर्सीडीज एस क्लास चला रहे 27 साल के निर्मल सर्राफ की मौत हो गई थी। इस मामले में सिर्फ एअरबैग ही नहीं बल्कि गाड़ी के अन्य सेफ्टी सेंसर भी फेल गये थे जिससे हादसे के बाद दरवाजों का ऑटोमेटिक अनलॉकिंग सिस्टम एक्टिव नहीं हो पाया और नतीजतन गाड़ी की छत को काटकर बड़ी मुश्किल से घायल को बाहर निकाला गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here