Road Accident: फुटपाथ छोड़ सडक़ पर पैदल चलना पड़ सकता है भारी

Toll Tax
Toll tax : 1 दिसम्बर से सभी नई गाडिय़ों में जरूरी होगा Fastag
November 3, 2017
captur SUV
Renault Captur 9.99 लाख रुपये से शुरू
November 7, 2017
road safety

road safetyमुम्बई के मोटर एक्सीडेंट ट्रिब्यूनल ने Road Accident के लिये कार चालक के साथ ही पैदलयात्री को भी दोषी ठहराया है।

2011 में मुम्बई के 27 साल की सीए महिला फुटपाथ छोड़ सडक़ पर पैदल चल रही थी। एक कार ने टक्कर मारी और महिला के पैर पर से तेज स्पीड से चल रही गाड़ी निकल गई। ट्रिब्यूनल ने इस मामले में आमधारणा और परम्परा को किनारे रखते हुये Road Accident में पीडि़त महिला को भी लापरवाही के लिये 25 फीसदी जिम्मेदार माना है।

महिला ने चोट लगने, चोट के चलते 6 महिने के लिये बेड रेस्ट पर रहने के कारण आय का नुकसान होने सहित अन्य कष्टों की भरपाई के लिये 25 लाख रुपये का मुआवजा मांगते हुये दावा किया।

लेकिन ट्रिब्यूनल ने 25 लाख रुपये के बजाय सिर्फ 5.14 लाख रुपये का कुल मुआवजा तय किया जिसमें भी Road Accident के लिये महिला को 25 फीसदी दोषी मानते हुये मुआवजे में से 25 फीसदी रकम काटते हुये बजाज आलियाज़ और कार मालिक देवीदास रायमालानी को 3.85 लाख रुपये महिला को हर्जाना और 2 लाख रुपये ब्याज रकम के रूप में देने का आदेश दिया।

ट्रिब्यूनल में पूछताछ के दौरान पीडि़त महिला ने दावा किया था कि हादसे की जगह के आस-पास कोई फुटपाथ नहीं था। जबकि पंचनामा रिपोर्ट में साफ कहा गया है कि हादसे की जगह से सिर्फ 3 फीट दूर फुटपाथ था।

ट्रिब्यूनल ने कहा कि इसमें कोई शक नहीं है कि फुटपाथ था लेकिन पिटिशनर महिला उसका इस्तेमाल नहीं कर रही थी और सडक़ पर चल रही थी। ऐसे में पिटिशनर भी लापरवाही कर रही थी।

हादसे में कार ड्राइवर की भूमिका की चर्चा करते हुये ट्रिब्यूनल ने कहा कि चूंकि सडक़ पर बहुत भीड़ थी ऐसे में उसकी जिम्मेदारी थी कि वो सावधानी से और महिला से सुरक्षित दूरी बनाते हुये गाड़ी ड्राइव करता।

ट्रिब्यूनल ने पीडि़त महिला के पांव में Road Accident के चलते आई लचक के कारण उसकी शादी में परेशानी पर गौर करते हुये 1 लाख रुपये का मुआवजा शामिल किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>