टोकियो की सडक़ों पर चल रही है Nissan की ProPilot ड्राइवरलैस कार

toyota-suzuki
Toyota और Maruti मिलायेंगी भारत में हाथ?
October 26, 2017
Compass
मेड इन इंडिया Jeep Compass का ऑस्ट्रेलिया और जापान को एक्सपोर्ट शुरू
October 28, 2017
Driverless Car

Driverless Carटोकियो में चल रहे मोटर शो में Nissan ने ProPilot टेक्नोलॉजी के प्रोटोटाइप के ट्रायल किये हैं। Nissan के हाईएंड इनफिनिटी ब्रांड की क्यू50 स्पोर्ट्स कार टोकियो की सडक़ों पर बिना ड्राइवर चल रही है। कम्पनी का दावा है कि वह इस टेक्नोलॉजी को 2020 तक लॉन्च कर देगी।

ProPilot टेक्नोलॉजी के चलते कार बिना ड्राइवर के शहर की सडक़ों के साथ एक्सप्रेसवे पर भी बिना ड्राइवर के चल सकती है। इस ड्राइवरलैस कार में 12 सोनार, 12 कैमरा, 9 मिमी. वेव रडार, 6 लेज़र स्कैनर और एक हाई डेफीनेशन मैप लगा है। इन सबके चलते यह कार शहर के आम ट्रेफिक में सभी तरह के हालातों से खुद ही निपट लेती है।

Nissan मोटर कोर्प के अनुसार ProPilot टेक्नोलॉजी में हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर इतने एडवांस्ड हैं कि कोई रुकावट आने के बाद कार खुद ही उनका विश्लेषण करती है और उन्हें क्लीयर कर लेती है। इस ProPilot सिस्टम के चलते ऐसा लगता है कि कार कोई ड्राइवर चला रहा है और कहीं भी ऐसा महसूस नहीं होता है कि कार बिना ड्राइवर के चल रही है।

ProPilot कार को स्टार्ट करने के साथ ही नेवीगेशन सिस्टम में आपको बस इतना फीड करना होता है कि जाना कहां है। इसके बाद का सारा ProPilot टेक्नोलॉजी के चलते यह कार खुद ही कर लेती है।

Nissan मोटर कोर्प के रिसर्च एंड एडवांस्ड इंजीनियरिंग के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट ताकाओ आसामी कहते हैं कि निसान जो भी करती है उसमें सादगी और सरलता होती है। नेक्स्ट जेनरेशन ProPilot टेक्नोलॉजी 2020 से गाडिय़ोंं में इस्तेमाल होने लगेगी।

Nissan ने हाल ही लॉन्च हुई न्यू जेनरेशन इलेक्ट्रिक कार निसान लीफ में भी ProPilot टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया है जिसके चलते यह हाईवे पर सिंगल लेन में ड्राइवरलैस तरीके से चल सकती है। कम्पनी अगले साल आने वाले मॉडलों सेरेना, एक्स-ट्रेल, कशकाई और रोग आदि मॉडलों में प्रो-पायलट सिस्टम का इस्तेमाल करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>