देखिये कार बाजार में कैसे बढ़ रही है Maruti की मोनोपॉली

0
20

भारत की ऑटो इंडस्ट्री जैसे-जैसे मै‘यॉर हो रही है इसमें कम्पीटिशन के लिहाज से हालात लगातार खराब हो रहे हैं। पैसेंजर वेहीकल सैगमेंट में करीब डेढ़ दर्जन कम्पनियों की मौजूदगी के बावजूद 2017 के टॉप-10 बेस्ट सेलर मॉडलों की लिस्ट में 7 मॉडल मारुति के रहे हैं जबकि ह्यूंदे के सिर्फ 3 मॉडल जगह बना पाये हैं। बाकी कोई भी कम्पनी इस लिस्ट में शामिल होने में कामयाब नहीं हो पाई है।
top-10 (1)

मोनोपॉली की स्थिति ये है कि टॉप-5 में पांचों मॉडल मारुति के रहे। मारुति ऑल्टो की 2017 में 257732 यूनिट्स बिकीं और दो दशक की मौजूदगी के बावजूद इसकी सेल्स में 2016 के कुल वॉल्यूम के मुकाबले 5.2 परसेंट की ग्रोथ दर्ज की गई। 2016 में मारुति सुजुकी ने 245094 ऑल्टो बेची थीं।
एक दौर मेंं ऐसा लगा रहा था कि रेनो की क्विड ऑल्टो के कस्टमर बेस में सेंध लगा रही है और इसका असर ऑल्टो की सेल्स पर पड़ा भी था लेकिन क्विड अपने ड्रीम रन को बरकरार नहीं रख पाई। 2016 में जहां रेनो ने 105745 क्विड बेचीं वहीं 2017 में लगातार नये वैरियेंट्स और लिमिटेड एडिशन लॉन्च करने के बावजूद इसकी सेल्स 92440 यूनिट्स रह गई।
मारुति को सबसे ’यादा फायदा न्यू डिज़ायर से हुआ है और यह टॉप-10 की लिस्ट में ऑल्टो के बाद दूसरे पायदान पर रही। न्यू डिज़ायर की 2017 में 225043 यूनिट्स बिकीं और इसकी सेल्स में 11.7 परसेंट की ग्रोथ दर्ज की गई। अगस्त और सितम्बर लगातार दो महिने ऐसे रहे जब डिज़ायर का सेल्स वॉल्यूम 30 हजार के पार रहा। इस तरह यह ऑल्टो को भी पीछे छोडक़र देश का बेस्ट सेलर पैसेंजर वेहीकल बन गई।
बलेनो देश की तीसरी बेस्ट सेलर रही और इसकी 2017 में 175209 यूनिट्स की सेल्स हुई जो 2016 में हुई सेल्स के मुकाबले 63.6 परसेंट ’यादा है।
मारुति को विटारा ब्रेज़ा को मिल रहे रेस्पॉन्स का भी फायदा मिला और इसके दम पर स्मॉल कार स्पेशलिस्ट यूवी सैैगमेंट में महिन्द्रा को पीछे छोड़ सबसे बड़ी कम्पनी बनने में कामयाब रही। कम्पनी ने 2017 में 140945 विटारा ब्रेज़ा बेचीं जो 2016 में हुई 85168 यूनिट्स की सेल्स के मुकाबले 65.5 परसेंट ’यादा है। सबसे बड़ी बात ये है कि विटारा ब्रेज़ा का कम्पनी ने अभी पेट्रोल वैरियेंट लॉन्च नहीं किया है।
वैगन-आर और स्विफ्ट की सेल्स में पिछले वर्ष मामूली गिरावट दर्ज की गई। मारुति सुजुकी न्यू जेनरेशन स्विफ्ट को ऑटो एक्स्पो में लॉन्च करने की तैयारी कर रही है।
कॉम्पेक्ट हैचबैक सेलेरियो का मारुति की सेल्स में 2017 में 100860 यूनिट्स का योगदान रहा।
ह्यूंदे के लिये 2017 में सबसे बड़ा वॉल्यूम जेनरेटर मॉडल ग्रांड आई-10 रही। 2016 में इसकी 136187 यूनिट्स बिकी थीं जो 2017 में 13.6 परसेंट ग्रोथ के साथ 154746 यूनिट्स हो गईं। ह्यूंदे की ही इलीट आई20 की 2017 में 116260 गाडिय़ां बिकीं जो 2016 मेंं हुई 102094 यूनिट्स की सेल्स के मुकाबले 1&.9 परसेंट ’यादा है। इसी तरह ह्यूंदे क्रेटा का योगदान 105485 यूनिट्स का रहा और इसकी सेल्स में 13.5 परसेंट ग्रोथ दर्ज की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here