होन्डा सेंसिंग सिस्टम: गाड़ी खुद रोकेगी रोड एक्सीडेंट

0
50

honda drive assistहोन्डा मोटर कम्पनी ने भिडंत की आशंका को कम करने के लिये होन्डा सेंसिंग के नाम से ड्राइवर असिस्ट सिस्टम डिजायन किया है और इसे कुछ ही महिनों में लॉन्च होने वाले मॉडल में फिट किया जायेगा। होन्डा सेंसिंग सडक़ पर मौजूद कार-साइकल-मोटरसाइकल आदि हर गाड़ी की हरकत को भांप सकेगा। इस सिस्टम में दो तरह के सेंसर लगे हैं। एक सेंसर मिलीमीटर-वेव रडार है जो फ्रंट ग्रिल में लगा होता है जबकि दूसरा मोनोकुलर कैमरा है जो विंडशील्ड में फिट होता है। होन्डा सेंसिंग में जो मिलीमीटर वेव रडार लगा है उसे कम्पनी ने बेहतर किया है ताकि सडक़ पर चल रहे पैदलयात्री को भी भांपा जा सके। इस सेंसर की रेंज 60 मीटर की है।honda drive assist1

इस सिस्टम में 8 प्रमुख फीचर्स हैं। कोलीजन मिटिगेशन ब्रेकिंग सिस्टम सामने से आ रहे वेहीकल और पैदलयात्री को पहचान लेता है और जैसे ही भिडंत की आशंका होती है यह ड्राइवर को ऑडियो व विजुअल अलर्ट देता है। जैसे ही ये ऑब्जेक्ट तयशुदा रेंज के अंदर आता है गाड़ी खुद ही हल्का सा ब्रेक लगा देती है ताकि ड्राइवर को जोखिम का अहसास हो जाये और यदि ड्राइवर अब भी हरकत में नहीं आता है तो ऑटोमेटिक तरीके से पूरे ब्रेक लग जाते हैं। इसी तरह यदि गाड़ी लेन जम्प करती है और सामने से आ रही गाड़ी से भिडंत की आशंका पैदा होती है तो यह सिस्टम ऑडियो और विजुअल वॉर्निंग के अलावा स्टीयरिंग में वाइब्रेशन भी पैदा करने लगता है और इसके साथ ही ब्रेक लग जाते हैं। रोड डिपार्चर मिटिगेशन सिस्टम फीचर में मोनोकुलर कैमरा सडक़ की लेन पर नजर बनाये रखता है और जैसे ही गाड़ी लेन जम्प करती है ड्राइवर को डिस्प्ले पर विजुअल अलर्ट दिखने लगता है और स्टीयरिंग व्हील वाइब्रेट करता है। इसके अलावा यह सिस्टम खुद ऐसी कमांड देता है जिससे स्टीयरिंग घूमता है और गाड़ी फिर से अपनी लेन में आ जाती है। यदि गाड़ी लेन को बहुत ज्यादा जम्प कर चुकी है और उसके सडक़ से उतर जाने की आशंका है तो ब्रेक लग जाते हैं।
पेडेस्ट्रियन कोलीजन मिटिगेशन स्टीयरिंग सिस्टम फीचर में मिलीमीटर वेव रडार और मोनोकुलर कैमरा सडक़ पर पैदलयात्री की मौजूदगी और बाउंडरी लाइन स्ट्रिप को भांपता है। जैसे ही सिस्टम को पैदलयात्री से भिडऩे की आशंका होती है या लगता है कि गाड़ी बाउंडरी लाइन स्ट्रिप की ओर जा रही है तो ऑडियो विजुअल वॉर्निंग देने के साथ ही स्टीयरिंग व्हील को घुमाकर वापस लेन में ले आता है। इस सिस्टम में लेन कीपिंग असिस्ट सिस्टम भी है जो गाड़ी को लगातार अपनी लेन में बनाये रखता है। होन्डा सेंसिंग में एडेप्टिव क्रूज कंट्रोल विद लो स्पीड फॉलो फीचर भी है जिसमें मिलीमीटर वेव रडार और मोनोकुलर कैमरा आगे चल रही गाड़ी की दूरी और स्पीड गैप को भांपते हैं और इसके हिसाब से गाड़ी की स्पीड और ब्रेकिंग को कंट्रोल करता है। इस सिस्टम में मोनोकुलर कैमरा ट्रेफिक साइन को भी पहचानता है और जरूरत के समय ड्राइवर को डिस्प्ले पर अलर्ट देता है। होन्डा सेंसिंग सडक़ पर खड़ी या बहुत धीरे चल रही गाड़ी पर भी नजर रखता है और हादसे से बचाने के लिये ड्राइवर को अलर्ट देेता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here