रिव्यू: रेनो लॉजी

0
14

120

भारत के एमपीवी सैगमेंट की शुरूआत 2005 में इनोवा के जरिये हुई थी। बाद के सालों में मल्टी परपज़ वेहीकल की लिस्ट में मारुति अर्टीगा, होन्डा मोबिलिओ शामिल हुईं और अब रेनो ने लॉज़ी को पेश किया है। एमपीवी को देश के पैसेंजर वेहीकल सैगमेंट में एमर्जिंग यानि उभरता हुआ माना जा रहा है और अगले दो साल मेंं इसमें 3-4 मॉडल आने की उम्मीद है।
एमपीवी मॉडलों की शुरूआत 1984 में सबसे पहले रेनो ने ही की थी और अब कम्पनी ने अपने रोमानियाई ब्रांड डासिया के पोर्टफोलियो से लॉज़ी को भारत में लॉन्च किया है। आपको बता दें कि डस्टर भी डासिया का ही प्रॉडक्ट है।
कम्पनी का दावा है कि लॉज़ी में एसयूवी जितना स्पेस और कार सा कम्फर्ट मिलेगा।
डिजायन एंड स्टाइल: ओवरऑल लुक के लिहाज से लॉज़ी को आप बहुत अपीलिंग नहीं कह सकते हैं। कम्पनी की पूरी ब्रांड पिच वैसे भी डिजायन के बजाय कम्फर्ट और स्पेस पर है। 2.8 मीटर व्हीलबेस और 4.5 मीटर लम्बाई के चलते लॉज़ी बिग कार महसूस होती है और इस मामले में मुकाबले में टोयोटा इनोवा ही है। फ्रंट फेसिया बहुत चौड़ा है और इसे छुपाने में एलीगेंट हैडलैम्प, क्रोम इन्सर्टेड रेडियेटर ग्रिल और बड़ा सा एअरडैम कामयाब रहा है। साइड प्रॉफाइल बिल्कुल सिम्पल है लेकिन क्रोम फिनिश साइड मोल्ड से बॉक्सी फील कम हुई है। रिअर एंड में आपको सिर्फ बूमरैंग शेप टेल लाइट ही अपील करेगी और टेलगेट बिल्कुल सादा है। 15 इंच के व्हील हैं जो लॉजी के साइज से छोटे लगते हैं। व्हील बेस बड़ा है जिससे लॉजी का स्टान्स अच्छा है।
00

इंटीरियर: लॉज़ी के बड़े बॉडी साइज का असर यहां साफ नजर आता है। इंटीरियर में बहुत खुलापन है और यही कारण है कि कम्पनी ने इसे 7 और 8 सीट के अरेंजमेंट ऑप्शन में पेश किया है। यह सुविधा आपको सिर्फ इनोवा में मिल सकती है। डैशबोर्ड ड्यूअल टोन है लेकिन यह सीधे नई डस्टर से उठाया गया है। इसके अलावा सीट्स, स्टीयरिंग व्हील और डिस्प्ले इंस्ट्रूमेंट भी बिल्कुल डस्टर वाला ही है। इसमें 7 इंच का टचस्क्रीन मीडियानेवीगेशन सिस्टम दिया गया है जिसमें नेवीगेशन के अलावा यूएसबी, ऑक्सइन और ब्लूटूथ के फंक्शन हैं। 7 सीट वैरियेंट में तीसरी लाइन की सीटें भी कैप्टेन हैं। हालांकि 8 सीटर वैरियेंट में बेंच सीट्स दी गई हैं। सैकंड व थर्ड रो के लिये रूफ माउंटेड एसी हैं। सैकंड रो सीट को फुल फोल्ड और 60:40 स्प्लिट किया जा सकता है जबकि थर्ड रो सीट्स को 50:50 स्प्लिट करने के साथ ही पूरी तरह हटा भी सकते हैं।
Lodgy Vs

इंजन: लॉज़ी में 1.5 लीटर का वही के9के डीजल इंजन है जिसे कम्पनी डस्टर सहित अन्य कई मॉडलों में इस्तेमाल कर रही है। इस इंजन को कम्पनी ने डस्टर की तरह 85 और 110पीएस पावर ऑप्शन में दिया है। 85 पीएस पावर ऑप्शन के साथ 5-स्पीड का गियर बॉक्स है वहीं 110 पीएस के साथ 6-स्पीड गियर बॉक्स दिया गया है। 85 पीएस ऑप्शन का प्रमाणित मायलेज 21.04 किमी वहीं 110 पीएस का मायलज 19.98 किमी प्रमाणित है।
सेफ्टी: लॉज़ी को कम्पनी ने सेफ्टी के लिहाज से बढिय़ा पैकेज बनाया है। इसमें दो फ्रंट एअरबैग दिये गये हैं। वहीं ईबीडी व ब्रेक असिस्ट के साथ एबीएस स्टेन्डर्ड फीचर है। लॉजी में कम्पनी ने रियर वाइपर व डीफोगर के साथ, रियर पार्किंग सेंसर व रियर व्यू कैमरा भी दिया हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here