मारुति वैगन-आर 15 लाख पार

0
50

wagon-r

मारुति की बेस्ट सेलर फैमिली कार वैगन-आर ने 15 लाख के स्तर को हासिल कर लिया है। मारुति ने वैगन-आर को सबसे पहले साल 2000 में भारत में लॉन्च किया था यानि 15 लाख के स्तर पर पहुंचने में इस मॉडल को 14 साल लगे हैं। लम्बे समय तक यह ऑल्टो के बाद दूसरा सबसे ज्यादा बिकने वाला मॉडल रहा है और आज स्विफ्ट व डिज़ायर के आगे निकल जाने के बावजूद देश के टॉप-5 मॉडलों में शामिल होती है।
मारुति सुजुकी के मार्केटिंग वाइस प्रेसिडेंट मनोहर भट्ट के अनुसार स्पेस, फीचर और कम्फर्ट के चलते वैगन-आर स्मार्ट कस्टमर की पसंद रही है। पिछले वित्तीय वर्ष में इसकी 1.56 लाख यूनिट्स बिकी थीं और चालू वर्ष में अक्टूबर तक 93 हजार वैगन-आर बिक चुकी हैं। कम्पनी ने 2010 में इसका सीएनजी वैरियेंट पेश किया था और जिन शहरों में सीएनजी फ्यूल उपलब्ध है वहां वैगन-आर की बिक्री में 50 फीसदी योगदान सीएनजी वैरियेंट का है। मारुति सुजुकी वैगन-आर को लगातार अपग्रेड करती रही है और नई पीढ़ी की वैगन-आर को 2011 में लॉन्च किया था। इसके बाद 2013 में इसका टॉप एंड ट्रिम स्टिंग रे के नाम से पेश किया जा चुका है।
खबर है कि मारुति सुजुकी अब वैगन-आर का एएमटी वैरियेंट लाने की तैयारी कर रही है जो कुछ ही महिनों में लॉन्च हो जायेगा। माना जा रहा है कि एएमटी गियर बॉक्स का ऑप्शन सिर्फ स्टिंग रे वैरियेंट में ही होगा।
अभी कुछ महिने पहले ही ऑल्टो ने 25 लाख यूनिट्स के स्तर को हासिल किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here