महिन्द्रा की पजियट स्कूटर को खरीदने की तैयारी

0
31

Peugeot-eVivacity-scooters-01

भारत की ट्रेक्टर, पैसेंजर वेहीकल, सीवी और टू-व्हीलर निर्माता कम्पनी महिन्द्रा एड महिन्द्रा फ्रांस की पीएसए पजियट सिट्रोइन के स्कूटर कारोबार को खरीदने के लिये बातचीत कर रही है। महिन्द्रा एंड महिन्द्रा और पीएसए पजियट सिट्रोइन की ओर से हालांकि अभी तक इस बारे में कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है लेकिन मामले से जुड़े सूत्रों के अनुसार दोनों कम्पनियों के बीच बातचीत बहुत आगे बढ़ चुकी है और जल्दी ही इस बारे में कोई घोषणा हो सकती है।
महिन्द्रा एंड महिन्द्रा ने साल 2008 में कायनेटिक मोटर कम्पनी का अधिग्रहण कर दुपहिया सैगमेंट में कदम रखे थे और अभी इसके पोर्टफोलियो में रोडियो, ड्यूरो, फ्लाइट और काइने आदि स्कूटर के साथ ही सेंट्यूरो बाइक मॉडल हैं। महिन्द्रा टू-व्हीलर घरेलू बाजार में होन्डा और हीरो का मुकाबला करना चाहती है और पजियट मोटरसाइकल्स के अधिग्रहण से कम्पनी की यूरोपीय टेक्नोलॉजी तक पहुंच हो जायेगी।
भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा टू-व्हीलर बाजार है यहां साल में करीब 1.5 करोड़ यूनिट्स की बिक्री होती है।
पजियट ने पिछले वर्ष करीब 80 हजार स्कूटर बेचे थे और इसका फ्रांस के साथ ही चीन में भी जॉइंट वेंचर चल रहा है। अभी मार्च में ही सीईओ बने कार्लोस तवारेस के लिये पजियट को घाटे से बाहर निकालना सबसे बड़ी चुनौती है और यदि महिन्द्रा एंड महिन्द्रा के साथ बातचीत कामयाब रहती है तो इस तवारेस की बड़ी सफलता माना जायेगा।
पजियट के सामने सबसे बड़ी चुनौती टू-व्हीलर बिजनस में इटली की कम्पनी पियाजियो से मुकाबला करने की है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार पजियट 2012 में स्कूटर इंजन का एक प्लांट बंद कर चुकी है और अब पूर्वी फ्रांस के मैन्ड्यूरे में मौजूद प्लांट से ही कम्पनी पूरा उत्पादन कर रही है। कम्पनी ने अपने इस कारोबार को पटरी पर लाने के लिये पिछले वर्ष मेट्रोपोलिस के नाम से थ्री-व्हीलर मॉडल भी लॉन्च किया था। शुरुआत में पजियट मेट्रोपोलिस के लिये साल में सात हजार यूनिट्स का लक्ष्य लेकर चल रही थी लेकिन अब इसे घटाकर 4 हजार यूनिट्स कर दिया गया है।
अभी दो दिन पहले ही कार्लोस तवारेस ने कहा था कि स्कूटर कारोबार पूरे ग्रुप की परफॉर्मेन्स पर असर डाल रहा है और इसका हल निकालने के लिये कोशिश चल रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here