फरवरी सेल्स: कार चढ़ीं और बाइक्स फिसलीं

0
27

feb sales companiesफरवरी में पैसेंजर और कमर्शियल सैगमेंट की ज्यादातर कम्पनियों को बिक्री में फायदा हुआ और इससे इकोनॉमी के ट्रेक पर लौटने के संकेत मिल रहे हैं। लेकिन टू-व्हीलर खासतौर पर एंट्री बाइक्स की कमजोर सेल्स रूरल इकोनॉमी के मुश्किल हालातों की ओर भी इशारा कर रही है।
मारुति ने फरवरी में घरेलू बाजार में 107892 गाडिय़ां बेचीं जो फरवरी 2014 में हुई 99758 यूनिट्स की बिक्री के मुकाबले 8.2 फीसदी बेहतर है। लेकिन स्विफ्ट, रिट्ज, सेेलेरियो और डिज़ायर वाले कॉम्पेक्ट सैगमेंट में कम्पनी को 6.4 का नुकसान उठाना पड़ा है। ऑल्टो और वैगन-आर वाले मिनी सैगमेंट में मारुति की बिक्री 7.1 फीसदी बढक़र 39988 यूनिट्स रही। अर्टीगा वाले यूवी सैगमेंट में भी बिक्री 12.1 फीसदी बढक़र 5863 यूनिट्स रही। सियाज़ के डिस्पैच 5410 यूनिट्स के रहे।
हालांकि ऑटो इंडस्ट्री के लिये बजट में कोई साफ घोषणायें नहीं हैं लेकिन फिर भी माना जा रहा है कि इन्फ्रास्ट्रक्चर और मनरेगा के लिये बजट बढ़ाने से खर्च करने लायक आमदनी बढ़ेगी जिसका फायदा ऑटो इंडस्ट्री को भी होगा।
ह्यूंदे को भी फरवरी में फायदा हुआ है और कम्पनी की सेल्स 34005 के मुकाबले 9.7 फीसदी बढक़र 37305 यूनिट्स रही। हालांकि एक्सपोर्ट के लिहाज से कम्पनी ने 17.5 फीसदी का नुकसान उठाना पड़ा है। ह्यूंदे इंडिया के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट राकेश श्रीवास्तव कहते हैं कि इलीट आई-20 के दस हजार से ज्यादा डिस्पैच का फायदा मिला है और फस्र्ट टाइम के मुकाबले रिपीट बायर बाजार में सक्रिय हैं।
हालांकि महिन्द्रा एंड महिन्द्रा के पैसेंजर मॉडलों की बिक्री 19308 के मुकाबले फरवरी में 6 फीसदी गिरावट के साथ 18103 यूनिट्स रही।
होन्डा की रफ्तार फरवरी में जारी रही और कम्पनी ने 14543 के मुकाबले 16 फीसदी बढ़ोतरी के साथ 16902 गाडिय़ां बेचीं। अमेज़ 7163 यूनिट्स की सेल्स के साथ सिटी को पीछे छोड़ बेस्ट सेलर बनकर उभरी है। कम्पनी ने इस महिने 6505 सिटी बेची। लेकिन बड़ी उम्मीदों के साथ आई मोबिलिओ होन्डा के लिये नई ब्रिओ बनती नजर आ रही है। फरवरी में मोबिलिओ के डिस्पैच सिर्फ 1697 यूनिट्स रह गये।
टोयोटा किर्लोस्कर ने फरवरी में 10100 के मुकाबले 16.85 फीसदी बढ़त के साथ 11802 गाडिय़ां बेचीं। टाटा मोटर्स ने इस महिने 13767 गाडिय़ां बेचीं जो फरवरी 2014 में हुई 11325 यूनिट्स की बिक्री के मुकाबले 22 फीसदी ज्यादा है।
एक ओर पैसेंजर सैगमेंट में ज्यादातर कम्पनियों को फायदा हुआ वहीं टू-व्हीलर कम्पनियों की कमजोर बिक्री चिंता बढ़ा रही है। हीरो मोटोकोर्प कई महिनों बाद पहली बार 5 लाख के स्तर से नीचे फिसली है। कम्पनी ने फरवरी में कुल 484769 बाइक और स्कूटर बेचे जो फरवरी 2014 में हुई 504181 यूनिट्स की बिक्री के मुकाबले 3.85 फीसदी कमजोर है। बजाज ऑटो को भी इस महिने बड़ा घाटा उठाना पड़ा है और कम्पनी की निर्यात सहित कुल बाइक बिक्री 22 फीसदी की भारी गिरावट के साथ 216077 यूनिट्स रह गई।
टीवीएस की बिक्री 11 फीसदी बढक़र 164508 यूनिट्स रही वहीं होन्डा मोटसाइकल एंड स्कूटर को बाइक में 2.25 फीसदी घाटा हुआ जबकि स्कूटर सैगमेंट में 22 फीसदी का फायदा हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here