टाटा ज़ेस्ट एएमटी: ऑटो डीजल कार आपके बजट में

1
42

ZEST

ज़ेस्ट पर टाटा मोटर्स का दांव सही साबित हो रहा है। सप्लाई की परेशानियों के चलते वेटिंग के बावजूद 3 महिने में 10 हजार यूनिट्स की बिक्री से कम्पनी और डीलरों का जोश बढ़ा है। कम्पनी ने हाल ही ज़ेस्ट का एएमटी यानि ऑटो गियर शिफ्ट टेक्नोलॉजी वाला वैरियेंट लॉन्च किया है। अभी एएमटी गियर बॉक्स मारुति सेलेरियो और नई के-10 में ही मौजूद है और ये दोनों ही मॉडल पेट्रोल के हैं। यानि ज़ेस्ट अकेला मॉडल है जिसमें डीजल के साथ एएमटी का भी विकल्प दिया गया है। ज़ेस्ट डीजल एएमटी को टाटा मोटर्स ने करीब 7 लाख रुपये की एक्स-शोरूम कीमत पर पेश किया है इस तरह यह भारत की सबसे कम कीमत वाली डीजल ऑटोमेटिक कार भी है।
tata amt

एएमटी: एएमटी दरअसल मैन्यूअल गियर बॉक्स का रोबोटिक अवतार है। यानि मैन्यूअल गियर बॉक्स में इस किट को लगाने से बार-बार क्लचिंग और गियरिंग की परेशानी नहीं उठानी पड़ती और ऑटोमेटिक गियर जैसी सुविधा मिल जाती है। यह दरअसल ड्यूअल मोड है यानि आप चाहें तो गाड़ी को ऑटो गियर में चलायें या फिर मैन्यूअल मोड में। इस टेक्नोलॉजी में भी ऑटो कार की तरह क्लच पेडल भी नहीं होता।

इंजन: टाटा ज़ेस्ट एएमटी सिर्फ डीजल ऑप्शन के साथ उपलब्ध है और इसमें 1.3 लीटर का मल्टीजेट इंजन है। मारुति के साथ ही टाटा, फिएट और शेवरले के सभी डीजल वैरियेंटों में यही डीजल इंजन इस्तेमाल किया जा रहा है और यह परफॉर्मेन्स, पावर, मायलेज और मेंटीनेन्स के लिहाज से बड़ा पसंद किया जाता है। यह भी कह सकते हैं कि भारत के मास कार सैगमेंट में डीजल फ्यूल को लोकप्रिय बनाने में सबसे बड़ा योगदान इसी इंजन का है। 1.3 लीटर के इस डीजल इंजन से 4 हजार आरपीएम पर 90 पीएस पावर मिलती है। टॉर्क 1750 एनएम का है। 

Related Post: Tata Zest Vs.: Price and Power Comparison

ड्राइव: स्टार्ट कर जैसे ही आप ऑटो मोड में आते हैं कम्फर्ट का अंदाजा खुद ही हो जायेगा। हालांकि शुरूआत में आपको हल्का सा जर्क महसूस होता है लेकिन जैसे ही स्पीड बढ़ती तो ड्राइव एकदम स्मूद हो जाती है। एनवीएच का भी अहसास नहीं होगा। ऑटो से मैन्यूअल और मैन्यूअल से ऑटोमोड में लाने के लिये आपको गाड़ी रोकने की जरूरत नहीं है। चलती गाड़ी में भी आप अपनी पसंद का ड्राइव मोड चुन सकते हैं। मैन्यूअल मोड में मीटर में यह डिस्प्ले होता रहता है कि गाड़ी किस गियर में चल रही है। ज़ेस्ट के पेट्रोल वैरियेंट में तीन ड्राइव मोड दिये गये हैं जो कि मैन्यूअल गियर वाले डीजल वैरियेंट्स में नहीं हैं। लेकिन एफ-ट्रॉनिक एएमटी वैरियेंट में स्पोर्ट्स मोड दिया गया है। इसके लिये गियर माउंट पर बटन है जिसे प्रेस करते ही आपको अलग पंच का अहसास होगा। मैन्यूअल मोड में गियर रेश्यो इलेक्ट्रॉनिक तरीके से सैट किया गया है यानि स्पीड कम होने पर गियर अपने आप निचले गियर में आ जाती है और जब तक गाड़ी की स्पीड तय लेवल तक नहीं पहुंचती आप ऊपर के गियर में नहीं जा सकते। इस लिहाज से मैन्यूअल मोड को भी स्मार्ट कहेंगे। 

Zest Vs.फीचर्स: ज़ेस्ट के एएमटी वैरियेंट को टाटा मोटर्स ने मिड वैरियेंट एक्सएम पर तैयार किया है यानि इसमें एक्सएम वाले सभी फीचर्स मिलेंगे। जिनमें एफएम, यूएसबी और ऑक्स सुविधा वाला हरमन इन्फोटेनमेंट सिस्टम, 4 स्पीकर, स्पीड सेंसिंग वॉल्यूम और स्टीयरिंग माउंटेड ऑडियो कंट्रोल है। स्टीयरिंग टिल्ट है, एसी और हीटर है, फोल्डेबल की और इलेक्ट्रिक ओआरवीएम मिलेंगे। सेफ्टी के लिहाज से इस वैरियेंट में फ्रंट व रियर फोग लैम्प, ईबीडी के साथ एबीएस, कॉर्नर स्टेबिलिटी कंट्रोल आदि फीचर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here