जून में कार बाजार की तेज रफ्तार

0
7

suzuki_ciaz

नई सरकार आने के साथ ही बाजार में भी नया जोश नजर आने लगा है। जून के जो बिक्री आंकड़े हैं वो इशारा कर रहे हैं कि कार बाजार बॉटम आउट होकर अब बूम के दौर की तैयारी कर रहा है। सियाम के आंकड़ों के अनुसार जून में 1,60,232 कारें बिकीं जो पिछले वर्ष जून में हुई 1,39,624 यूनिट्स की बिक्री के मुकाबले करीब 15 फीसदी ज्यादा है। मारुति सुजुकी के आंकड़े बताते हैं कि ऑल्टो, वैगन-आर वाले मिनी सैगमेंट में जून के डिस्पैच 31 हजार के मुकाबले 52 फीसदी बढक़र 47 हजार तक पहुंच गये। इस सैगमेंट के सबसे ज्यादा ग्राहक फस्र्ट टाइम कार बायर होते  हैं जो अब तक बाजार से दूर थे। अब ग्राहकों के जून में गाड़ी खरीदने से साफ इशारा मिल रहा है कि अर्थव्यवस्था को लेकर नकारात्मक नजरिया अब बदल रहा है। इस सैगमेंट की दूसरी सबसे बड़ी बात ये है कि इसमें सभी मॉडल पेट्रोल के हैं यानि पेट्रोल महंगा होने के बावजूद ग्राहक गाड़ी खरीद रहे हैं। यानि आने वाले महिनों में डीजल दीवानगी और घटेगी जिसका सीधा फायदा कार बाजार को होगा।
जून में यूवी सैगमेंट में बिक्री 6.90 फीसदी बढक़र 43,849 यूनिट्स रही। इस सैगमेंट पर अभी दबाव है जो लगातार घट रहा है और आने वाले महिनों में यह भी फास्ट ट्रेक पर आ सकता है। जहां तक सवाल है ओमनी और ईको वाले वैन सैगमेंट का तो जून में मारुति ने इसमें नौ हजार से भी ज्यादा गाडिय़ां बेचीं।
टू-व्हीलर सैगमेंट में बाइक बिक्री अब रफ्तार पकड़ रही है। जून में बाइक सैगमेंट में बिक्री 9.63 फीसदी बढक़र 8,76,196 यूनिट्स रही। स्कूटर लगातार फास्ट ट्रेक पर दौड़ रहे हैं और जून में इनकी बिक्री 25 फीसदी बढक़र 3,23,178 यूनिट्स रही। टू-व्हीलर में करीब एक वर्ष से मॉपेड सैगमेंट में बिक्री गिर रही थी लेकिन जून में इसमें भी सुधार नजर आया और 5.34 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 62,215 मॉपेड्स की बिक्री हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here