चीन में प्राइसिंग मोनोपॉली: फोक्सवैगन और क्राइस्लर पर जुर्माना

0
26

audiभारत में सीसीआई द्वारा 14 कार कम्पनियों पर स्पेयर पार्ट्स खुले बाजार में नहीं बेचने के मामले में ढाई हजार करोड़ रुपये का जुर्माना होने के बाद दुनिया के सबसे बड़े कार बाजार चीन में विदेशी कार कम्पनियों को इन दिनों मोनोपॉली वॉचडॉग नेशनल डवलपमेंट एंड रिफॉर्म कमिशन की नाराजगी झेलनी पड़ रही है। एनडीआरसी ने गुरूवार को फोक्सवैगन और फिएट समूह की कम्पनी क्राइस्लर पर 46 मिलियन डॉलर यानि करीब 280 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। इसके अलावा टाटा मोटर्स की ब्रिटिश लक्जरी कार कम्पनी जगुआर लैंडरोवर की भी जांच की जा रही है।
एनडीआरसी के फोक्सवैगन और क्राइस्लर के खिलाफ कड़ा कदम उठाने से जगुआर लैंड रोवर के साथ ही मर्सीडीज बेंज पर जुमार्ना लगने की आशंका गहराती जा रही है। इन कम्पनियों पर एंटी कॉम्पीटिटिव बिहेवियर यानि मोनोपॉली कर ग्राहकों को नुकसान पहुंचाने का आरोप है।

चीन में प्राइसिंग मोनोपॉली: जेएलआर ने 3 मॉडल किये सस्ते

चीन के हुबेई राज्य में एनडीआरसी ने कहा है कि वह ऑडी कारों की कीमत मिलीभगत कर बढ़ाने के आरोप में फोक्सवैगन समूह की चीनी साझा इकाई फॉ-फोक्सवैगन ऑटोमोबाइल कम्पनी लि. पर 40.6 मिलियन यानि करीब 250 करोड़ रुपये का जुर्माना लगायेगा। जबकि क्राइस्लर कारों की चीन में बिक्री करने वाली कम्पनी को करीब साढ़े पांच मिलीयन डॉलर यानि करीब तीस करोड़ रुपये का जुर्माना चुकाना होगा।
कम्पनी के अलावा क्राइस्लर के शंघाई में तीन और ऑडी के हुबेई में 8 डीलरों पर अलग से जुर्माना लगाया जायेगा।
भारत में सीसीआई यानि कम्पटीशन कमिशन ऑफ इंडिया ने 14 कार कम्पनियों पर खुले बाजार में स्पेयर पार्ट्स नहीं बेचकर ग्राहकों को कम्पनी के डीलरों के वर्कशॉप पर ही महंगी कीमत चुकाने के लिये मजबूर करने के आरोप में 2554 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। हालांकि इस फैसले के आने से पहले ही ह्यूंदें ने चेन्नई हाईकोर्ट से स्टे ले लिया था और फैसला आने के बाद मारुति सुजुकी ने ह्यूंदे को मिले स्टे की मिसाल देते हुये दिल्ली उच्च न्यायालय से सीसीआई के फैसले को लागू होने से रुकवा लिया है। टाटा और महिन्द्रा सहित कई अन्य कम्पनियां भी सीसीआई के फैसले के खिलाफ अदालत में जाने पर विचार कर रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here