कम्पनियों के डिस्पैच बढ़ाने से बेहतर हुये आंकड़े

0
42

एक्साइज ड्यूटी की मौजूदा छूट अभी 31 दिसम्बर तक ही है। आगे बढ़ेगी या नहीं इस बारे में सरकार ने कुछ नहीं कहा है शायद बढ़ भी सकती है। ऐसे में एक्साइज ड्यूटी की इस रियायत का फायदा उठाने के लिये ऑटो कम्पनियों ने अचानक उत्पादन बढ़ा दिया है। अभी टू-व्हीलर से लेकर कार और कमर्शियल मॉडलों पर 4 से 6 फीसदी की एक्साइज रियायत मिल रही है। हालांकि दिवाली बाद के दो महिने नवम्बर और दिसम्बर बिक्री के लिहाज से आमतौर पर कमजोर ही होते हैं लेकिन इस बार नवम्बर के सियाम ने जो आंकड़े जारी किये हैं उन पर रिटेल से ज्यादा स्टॉक का असर है। NOVEMBER SIAM SALES
सियाम के आंकड़ों के अनुसार नवम्बर में कारों की बिक्री 142849 के मुकाबले 9.52 फीसदी बढक़र 156445 यूनिट्स रही। यूवी सैगमेंट के हालात डीजल सस्ता होने के बावजूद कमजोर ही हैं और इस महिने बिक्री या कहें तो कम्पनियों के डीलर डिस्पैच 6.84 फीसदी गिरकर 41218 यूनिट्स रहे। वैन सैगमेंट में 2.41 फीसदी का मामूली सुधार दिखा है। कुल पैसेंजर वेहीकल सैगमेंट की बात करें तो नवम्बर में 201521 यूनिट्स के मुकाबले 5.42 फीसदी बढ़त के साथ 212438 यूनिट्स की बिक्री हुई।
इकोनॉमी मेंं सुधार के संकेत के कारण मध्यम और भारी ट्रक-बस सैगमेंट लगातार मजबूत हो रहा है। नवम्बर में इस सैगमेंट में कुल 16418 गाडिय़ां बिकीं जो पिछले वर्ष नवम्बर नवम्बर में हुई 11523 यूनिट्स की बिक्री के मुकाबले 40.14 फीसदी अधिक है। लेकिन एलसीवी गाडिय़ों की बिक्री अभी भी कमजोर है और इस सैगमेंट मेें बिक्री 2.08 फीसदी घटकर 31538 यूनिट्स रही।
टू-व्हीलर सैगमेंट में बाइक्स बिक्री नवम्बर में 3.05 फीसदी घटकर 853254 यूनिट्स रही। लेकिन स्कूटर सैगमेंट 26.49 फीसदी के उछाल के साथ 3.86 लाख यूनिट्स तक पहुंच गया। मॉपेड की बिक्री भी पटरी पर लौट रही है और नवम्बर में 11.79 फीसदी की बढ़त के साथ 61630 मॉपेड बिकीं। 3-व्हीलर की कुल बिक्री 3.14 फीसदी के मामूली सुधार के साथ 41737 यूनिट्स रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here